comscore
News

फेसबुक ला रहा है खुद की डिजिटल करेंसी, ब्लॉकचेन टेक्नोलजी पर भी कर रहा है काम

फेसबुक अपनी क्रिप्टोकरेंसी लॉन्च करने की तैयारी में जुटा है।

Facebook Plans to Launch Its Own Cryptocurrency: Report

फेसबुक अपनी क्रिप्टोकरेंसी लॉन्च करने की तैयारी में जुटा है। मीडिया रिपोर्ट्स में इस बात का दावा किया जा रहा है। इन रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि फेसबुक अपनी क्रिप्टोकरेंसी पेश करने को लेकर बेहद गंभीर है। अगर ऐसा होता है तो इसके जरिए यूजर्स वर्चुअल करेंसी जैसे की ‘बिटकॉइन’ में पेमेंट कर पाएंगे। बता दें कि इससे पहले रिपोर्ट्स आई थी कि सोशल नेटवर्किंग साइट फेसबुक ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी का उपयोग करके खुद को एक्सप्लोर कर रहा है। यानी फेसबुक अपने विस्तार में लगा हुआ है। अब इसके क्रिप्टोकरेंसी लॉन्च करने की खबर ने सबको हैरान कर दिया है।

कैसे हुआ इस बात का खुलासा?
टेक वेबसाइट Cheddar का कहना है कि फेसबुक खुद की क्रिप्टोकरेंसी को लेकर बेहद गंभीर है। फेसबुक के दुनियाभर में 2 बिलियन यूजर हैं। क्रिप्टोकरेंसी लॉन्च करने के बाद उसके इन यूजर्स को वर्चुअल करेंसी जैसे की बिटकॉइन के जरिए पेमेंट करने की सुविधा मिल जाएगी।  फेसबुक मैसेंजर के कार्यकारी प्रभारी डेविड मारकौस का कहना है कि वो एक छोटे समूह का गठन कर रहे हैं। इस समूह का गठन इसलिए किया जा रहा है ताकि  ब्लॉकचेन का सर्वोत्तम लाभ उठाने का तरीका ढूंढ़ा जा सके।

ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के बारे में फेसबुक ने दिया ये बयान
हालाकिं एक दूसरी रिपोर्ट का कहना है कि फेसबुक की क्रिप्टोकरेंसी लाने की कोई योजना नहीं है। इसमें कहा गया है कि फेसबुक की एक निर्धारित मूल्य पर खरीदने के लिए सीमित संख्या में वर्चुअल टोकन की पेशकश करके एक तथाकथित प्रारंभिक सिक्का पेशकश (आईसीओ) लाने की कोई योजना नहीं है। हालांकि ब्लॉकचेन टेक्नोलॉजी के बारे में फेसबुक का खुद कहना है कि दूसरी कंपनियों की तरह फेसबुक भी ब्लॉकचेन प्रौद्योगिकी की शक्ति का लाभ उठाने के तरीकों की तलाश कर रहा है। इसके लिए टीम कई नई एप्लीकेशन की खोज करेगी। हालांकि इस बारे में फेसबुक ने कुछ ज्यादा जानकारी साझा नहीं की है।

क्या होती है क्रिप्टोकरेंसी?
क्रिप्टोकरेंसी एक डिजिटल करेंसी होती है। इसमें करेंसी को रेगुलेट और वेरिफाई करने के लिए एन्क्रिप्शन तकनीक का इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा फंड के ट्रांसफर को वैरिफाई करने के लिए भी यही तकनीक इस्तेमाल होती है। क्रिप्टोकरेंसी को आप 21वीं सदी की करेंसी भी कह सकते हैं।

 

 

  • Published Date: May 14, 2018 1:39 PM IST