comscore
News

इंडोनेशिया में बैन के बाद Telegram की मैसेज सेवा कई पब्लिक चैनल्स से हुई बंद

टेलीग्राम के संस्थापक ने कहा कि इन्डोनेशियाई सरकार ने वेब आधारित पहुंच को ब्लॉक कर दिया है।

telegram-app

मैसेजिंग एप टेलीग्राम सबसे लोकप्रिय मैसेजिंग एप्स में से एक है। टेलीग्राम के संस्थापक ने रविवार को कहा कि इन्डोनेशियाई सरकार ने वेब आधारित पहुंच को ब्लॉक कर दिया है। ऐसा ‘आतंकवादी-गतिविधियों’ एवं पब्लिक चैनल्स को बंद करने के लिए किया गया है।

टेलीग्राम के फाउंडर, Pavel Durov ने अपने टेलीग्राम चैनल के माध्यम से ये घोषणा की है कि, “टेलीग्राम पूरी तरह से एन्क्रिप्टेड होने के साथ साथ आपनी गोपनीयता को भी ध्यान में रखकर बनाया गया है, लेकिन हम आतकवादियों के दोस्त नहीं है। उन्होंने आगे कहा कि वह इंडोनेशिया सरकार के इस निर्णय से काफी निराश हैं।

Duvrov ने कहा कि इंडोनेशियाई अधिकारियों के साथ किसी तरह की ‘मिसकम्युनिकेशन’ हुई थी, जिसके बारे में उन्हें सरकार द्वारा कुछ चैनलों को लेने के लिए अनुरोध करने की जानकारी नहीं थी। इंडोनेशियाई सरकार ने कहा है कि आतंकवादी-गतिविधियों को बढ़ावा मिल रहा है, जिसके बाद कंपनी ने चैनल को ब्लॉक करने के लिए कदम उठाए।

इंडोनेशिया की संचार मंत्रालय ने पहले एक बयान में कहा था कि ‘(टेलीग्राम) सेवा में इतने सारे चैनलों में आतंकवाद शामिल हैं… प्रोत्साहन देना और बम आदि का निर्माण करने के लिए टिप्स आदि देना या किसी भी तरह के अटैक को प्लान करना आदि गतिविधियों को ब्लॉक करना जरुरी था।’ इंडोनेशिया में टेलीग्राम को पार्शियल बेन इसलिए किया गया क्योंकि देश में हमला हुआ था।

इसे भी देखें: अमेजन इंडिया ने अपने ग्राहकों के लिए पेश किया ‘Local Finds’ फीचर

सरकार ने अभी तक कंप्यूटर के माध्यम से एप पर प्रतिबंध लगाया है, लेकिन जल्द ही सरकार इस एप को पूरी तरह से बंद करने के लिए तैयार है। संचार मंत्रालय ने शुक्रवार को जारी एक बयान में कहा कि ‘अब हम पूरे इंडोनेशिया में टेलीग्राम एप को बंद करने की प्रक्रिया तैयार कर रहे हैं अगर टेलीग्राम स्टैंडर्ड ऑपरेटिंग के साथ नहीं आया।’

इसे भी देखें: भारत में लॉन्च हुआ Nokia 105 और Nokia 130 फीचर फोन, जाने कीमत

वहीं, टेलीग्राम ने घोषणा कर जानकारी दी है कि एप के लेटेस्ट वर्जन में कुछ और नए फीचर्स उपलब्ध कराए गए है। टेलीग्राम ने सुपरग्रुप के सदस्यों की सीमा को 10,000 तक बढ़ा दी गई है। जिसका मतलब यह हुआ कि एक सिंगल ग्रुप में एक बार में 10,000 लोगों को जोड़ा जा सकता है। यह फीचर लेटेस्ट अपडेट, जो कि एप के वर्जन 4.1 के लिए है। इस वर्जन में सुपरग्रुप एडमिन और यूजर्स के लिए नए फीचर्स को एड किया गया है।

इसे भी देखें: Xiaomi 5X कंपनी के सब-ब्रांड का पहला स्मार्टफोन, कीमत और स्पेसिफिकेशन हुए लीक

  • Published Date: July 17, 2017 10:30 PM IST