comscore
News

गूगल के सबसे तेज ऑपरेटिंग सिस्टम एंड्रॉइड P को मिला क्वॉलकॉम का साथ

क्वालकॉम ने बुधवार को गूगल के एंड्रॉइड पी को सपोर्ट करने की घोषणा की है।

गूगल के सबसे तेज ऑपरेटिंग सिस्टम एंड्रॉइड P को मिला क्वॉलकॉम का साथ, Qualcomm announces support for 'fast commercial availability' of Android P

क्वालकॉम ने बुधवार को गूगल के एंड्रॉइड पी को सपोर्ट करने की घोषणा की है। एंड्रॉइड पी गूगल का अब तक का सबसे फास्ट ऑपरेटिंग सिस्टम है। इसे मंगलवार रात को गूगल के डेवलपर्स कॉन्फ्रेंस में लॉन्च किया गया है। क्वॉलकॉम का कहना है कि वो एंड्रॉइड पी को और ज्यादा डिवाइसिस में लाने के लिए गूगल के साथ मिलकर काम कर रहा है। उम्मीद है कि गूगल के पिक्सल, सोनी, नोकिया और ऑप्पो, वीवो के जिन डिवाइसिस में एंड्रॉइड पी अपडेट मिला है, इसके अलावा दूसरे डिवाइसिस में भी जल्द यह अपडेट मिलेगा।

क्वॉलकॉम दुनियाभर में चिप बनाने वाली मशहूर मल्टीनेशनल सेमीकंडक्टर कंपनी है। क्वॉलकॉम ने इस नए ऑपरेटिंग सिस्टम को एक्सेस कर चुका है। क्वॉलकॉम चाहता है कि गूगल के साथ साझेदारी के जरिए इस ऑपरेटिंग सिस्टम को ज्यादा से ज्यादा स्मार्टफोन में उपलब्ध कराया जाए। गूगल वीपी के वाइस प्रेसिडेंट  डेव बर्क का कहना है कि हम क्वॉलकॉम के साथ मिलकर काम करने को लेकर बेहद उत्साहित हैं।

इन स्मार्टफोन में सपोर्ट करेगा एंड्रॉइड पी Beta
गूगल का यह ऑपरेटिंग सिस्टम गूगल के पिक्सल स्मार्टफोन के अलावा शाओमी, नोकिया, वनप्लस, ओपो और सोनी के स्मार्टफोन को सपोर्ट करेगा। यह ऑपरेटिंग सिस्टम सोनी के Xperia XZ2, Nokia 7 Plus, Xiaomi Mi MIX 2S, Oppo R15 Pro, Essential PH-1, Vivo X21 UD and Vivo X21 और OnePlus 6  स्मार्टफोन को सपोर्ट करेगा।

Android P Beta ऑपरेटिंग सिस्टम में गूगल ने आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस और  मशीन लर्निंग टेक्नोलॉजी पर ध्यान दिया है। आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस गूगल की कोर स्ट्रेंथ भी है, क्योंकि दुनियाभर में इस वक्त सबसे एडवांस टेक्नोलॉजी के तौर पर AI ही ऊभर कर आई है। इस ऑपरेटिंग सिस्टम में गूगल अडैप्टिव बैटरी, अडैप्टिव ब्राइटनेस, ऐप ऐक्शंस, स्लाइसेज के अलावा कई और फीचर भी लेकर आया है, जो कि यूजर्स के स्मार्टफोन के परफॉर्मेंस को बेहतर बनाएगा।

 

 

  • Published Date: May 9, 2018 12:25 PM IST
  • Updated Date: May 9, 2018 1:11 PM IST