comscore
News

ट्विटर ने स्पैम और ट्रोल के खिलाफ उठाया ये कदम

ट्विटर के इस कदम से फेक अकाउंट पर रोक लगेगी और ट्रोलिंग में भी कमी आएगी।

twitter-logo

ट्विटर अब नए अकाउंट को ई-मेल एड्रेस के जरिए वेरिफाई करेगा। इसके अलावा यूजर्स से उसका फोन नंबर भी मांगा जाएगा ताकि स्मैप से लड़ाई लड़ी जा सके। ट्विटर ने मंगलवार को इस बात की घोषणा की है। ट्विटर का कहना है कि वो यूजर्स से ई-मेल आईडी और फोन नंबर मांगना शुरू करेगा।

ऐसा करके ट्विटर इस बात की पुष्टि करेगा कि जो यूजर्स अपना अकाउंट बना रहे हैं, वो रियल हैं या फेक। बता दें कि इस वक्त ट्विटर ट्रोल का सबसे बड़ा अड्डा बना हुआ है। यहां फेक अकाउंट के जरिए अपनी आइडेंटिटि छुपाकर यूजर्स गाली-गलौज से लेकर लोगों को ट्रोल तक करते हैं। इसके अलावा इस वक्त ट्विटर घृणा फैलाने वाले कंटेंट से भी भरा पड़ा है। ये सब भी फेक अकाउंट के जरिए किया जाता है। अब ट्विटर इसके खिलाफ कड़े नियम बरतने जा रहा है। इसलिए नए अकाउंट बनाने वाले यूजर्स के वेरिफिकेशन के लिए अब ईमेल आईडी के साथ फोन नंबर भी मांगा जाएगा।


ट्विटर के इस कदम से फेक अकाउंट पर रोक लगेगी और ट्रोलिंग में भी कमी आएगी। बता दें कि ट्विटर ने स्मैप और ट्रोल को लेकर कड़े कदम उठा रहा है। हाल ही में स्पैम को क्लिन करने और एक्टिविटी को ऑटोमेटिड करने के लिए भी ट्विटर ने कदम उठाए हैं। ट्विटर सिस्टम्स ने हाल ही में 90 लाख से ज्यादा स्पैम अकाउंट की पहचान की है।

  • Published Date: June 27, 2018 6:21 PM IST