comscore
News

व्हाट्सएप ग्रुप में आपका नाम मेंशन होने पर आपको मिलेगी जानकारी

व्हाट्सएप का नया फीचर जल्द यूजर्स को बताएगा कि कब उन्हें ग्रुप में किसी ने मेंशन किया था।

  • Published: January 12, 2018 10:15 AM IST
whatsapp-logo-stock-image

व्हाट्सएप में ग्रुप मैसेजिंग एक महत्वपूर्ण हिस्सा है और कंपनी अपने यूजर्स के एक्सपीरियंस को और बेहतर बनाने के लिए नए-नए फीचर्स पेश करते रहती है। वहीं, एक नए फीचर को iOS beta एप में स्पॉट किया गया है और इसे जल्द ही पब्लिक के लिए पेश किया जा सकता है। इस फीचर की मदद से यूजर्स को यह पता लग पाएगा कि उन्हें ग्रुप में कब-कब मेंशन किया गया है।

व्हाट्सएप एक नए ग्रुप नोटिफिकेशन फीचर पर काम कर रहा है, जिसमें यूजर्स का नाम ग्रुप में मेंशन करने पर उन्हें नोटिफिकेशन मिलेगा। इस अपकमिंग फीचर को WABetaInfo पर स्पॉट किया गया है। आप स्क्रीनशॉट में देख सकते हैं कि एक नया बटन ‘jump to the bottom’ बटन के उपर है। अगर बटन ‘@’ सिंबल और चार नंबर को शो करता है तो इसका मतलब है कि आपका नाम चार पर मेंशन किया गया है और आप उस बटन पर टैप कर सीधा मेंशन किए गए मैसेज पर जा सकते हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि यह बटन तभी दिखाई देगा, जब उल्लेख किए गए संदेश न पढ़े गए हों। यदि आप मैन्युअल रूप से सभी अनरीड मैसेज के माध्यम से स्क्रॉल करते हैं, तो बटन स्वचालित रूप से गायब हो जाएगा। इस स्टोरी को दाखिल करने के समय व्हाट्सएप द्वारा नई सुविधा का परीक्षण किया जा रहा है। फिलहाल इस बारे में कोई जानकारी नहीं है कि इसे कब रोल आउट किया जाएगा। वहीं, अभी यह फीचर beta में है और यब बात बिल्कुल पक्की है कि कंपनी इस फीचर को जल्द ही यूजर्स के लिए पेश करेगी।

बता दें कि हाल ही में ग्रुप चैट फीचर सवालों के घेरे में आ गया था। सामने आई एक रिपोर्ट के अनुसार व्हाट्सएप बग ने ग्रुप चैट की प्राइवेसी पर सवाल खड़े कर दिए हैं। सुरक्षा शोधकर्ताओं द्वारा उपयोगकर्ताओं की चैट की सुरक्षा पर सवाल उठाए गए हैं।

जर्मनी के रूहर यूनिवर्सिटी बोचूम के शोधकर्ताओं ने दावा किया है कि, व्हाट्सएप के सर्वरों को कोई भी कंट्रोल कर सकता है, जैसे किसी कर्मचारी द्वारा निर्देशित कर्मचारी, उदाहरण के लिए- सिक्योरिटी प्रोसेस को धोखा दे सकते हैं और नए सदस्यों को ग्रुप में जोड़ सकते हैं और निजी बातचीत की जासूसी कर सकते हैं। जर्मन क्रिप्टोग्राफरों की एक टीम द्वारा किए गए नए शोध के अनुसार, व्हाट्सएप में कई खामियों को देखा गया, जिसमें इस एप के ग्रुप चैट फीचर में घुसपैठ करना संभव है। यानि इसकी प्राइवेसी खतरे में है।

  • Published Date: January 12, 2018 10:15 AM IST