comscore
News

WhatsApp UPI पेमेंट जल्द ही हो सकता है शुरू, अगले महीने होगा आपके सामने

WhatsApp, State Bank of India, ICICI Bank, HDFC Bank and Axis Bank के साथ अपने Unified Payment Interface (UPI) आधारित भुगतान प्लेटफॉर्म को एकीकृत करने के विभिन्न चरणों में है।

  • Updated: January 18, 2018 9:49 AM IST
WhatsApp

WhatsApp अगले महीने अपने बहुप्रतीक्षित पेमेंट फीचर को शुरू कर सकता है, इस बात की जानकारी उन लोगों (Et Tech) के माध्यम से सामने आई है, जो इस विषय को लेकर कुछ जानते हैं। इन्होंने अभी तक देश में डिजिटल भुगतान के लिए सबसे बड़ा प्रोत्साहन प्रदान किया है।

आपको बता दें कि इन्हीं लोगों ने कहा है कि देश में सबसे ज्यादा इस्तेमाल किया जाने वाले इंस्टेंट मैसेजिंग ऐप यानी WhatsApp, State Bank of India, ICICI Bank, HDFC Bank and Axis Bank के साथ अपने Unified Payment Interface (UPI) आधारित भुगतान प्लेटफॉर्म को एकीकृत करने के विभिन्न चरणों में है।

इनमें से एक ने कहा है कि, “यह प्लेटफार्म पहले से ही बीटा स्टेज यानी टेस्टिंग प्रक्रिया में है, और अभी इसकी टेस्टिंग इन्हीं में से किसी एक पार्टनर बैंक के साथ चल रही है। इसके अलावा हम ऐसा कह सकते हैं कि यह पेमेंट फीचर फरवरी माह में अंत तक शुरू किया जा सकता है, हालाँकि यह इस बात पर भी निर्भर करता है कि इसका परिक्षण किस प्रकार से चल रहा है।”

एक बैंकर ने भी इस बात की पुष्टि की है कि व्हाट्सएप बैंकों के साथ सिस्टम इंटीग्रेशन के विभिन्न चरणों में है। इसके अलावा इन्होंने यह भी कहा है कि, “हम इस प्लेटफार्म पर अभी सिक्यूरिटी चेक कर रहे हैं, और इस बात को भी सुनिश्चित कर रहे हैं, कि आपका डाटा कितना सिक्योर होने वाला है।” एकीकरण प्रक्रिया में सुरक्षा जांच के बाद अंतिम चरण में शामिल होने से पहले चयनकर्ताओं के बीच उत्पाद का परीक्षण करना शामिल है।

WhatsApp को सरकार से इसके लिए अप्रूवल पिछले साल जुलाई में ही मिल गया था, इसके अलावा यह यह ऐप भी गूगल की तरह ही अपना खुद का एक पेमेंट प्लेटफार्म लॉन्च करने की पूरी तैयारी कर चुका है। इसमें भी आपको डायरेक्ट बैंक से जुड़ने की आज़ादी मिलने वाली है। यह भी आपके बैंक से सीधे तौर पर लिंक हो जाने वाला है।

आपको बता दें कि भारत में सबसे ज्यादा प्रसिद्द होने के कारण इस WhatsApp के इस फीचर का इंतज़ार भी बड़े ज़ोरों से किया जा रहा था, इसे हम एक बहुप्रतीक्षित फीचर भी कह सकते हैं। और अब ऐसा सच होने जा रहा है, यानि आपको अब ज्यादा इंतज़ार करने की जरूरत नहीं है। जदल ही आप अपने इस मैसेजिंग ऐप में भी एक पेमेंट प्लेटफार्म को देखने वाले हैं।

हालांकि बैंकरों का कहना है कि एकीकरण से पहले विभिन्न सुरक्षा चिंताओं को संबोधित करने की आवश्यकता है, खासकर बैंक ग्राहकों के डाटा को लेकर इसपर ज्यादा विचार करने की जरूरत है।

  • Published Date: January 18, 2018 9:46 AM IST
  • Updated Date: January 18, 2018 9:49 AM IST