comscore
News

रिलायंस जियो के कारण हो सकता है 2जी मोबाइल इंटरनेट बंद: रिपोर्ट

रिलायंस जियो ने कम कीमत में 4जी नेटवर्क उपलब्ध कराया है।

  • Updated: January 12, 2018 9:42 AM IST
reliance-jio-logo-1

रिलायंस जियो ने टेलीकॉम क्षेत्र में प्रवेश करते ही भारतीय बाजार में एक क्रांतिकारी बदलाव किया। कंंपनी ने टेलीकॉम इंडस्ट्री में 4जी नेटवर्क की शुरूआत करते हुए मुफ्त वाईफाई की सुविधा मुहैया कराई। जिसके बाद आज यह इंटरनेट वायरलेस क्षेत्र में ब्रॉडबैंड का भी पर्याय बन गया है। वहीं एक रिपोर्ट के अनुसार जियो के कारण 2जी मोबाइल इंटरनेट लगभग बंद हो गया है।

जहां भारत में 2जी और 3जी हेंडसेट की डिमांड काफी थी, वहीं रिलायंस जियो के बाद 4जी और मुफ्त वाईफाई जैसी सर्विस के आने के बाद 3जी हैंडसेट भी पुराने हो गए हैं। अब मोबाइल निर्माता कंपनियों का फोकस 4जी सपोर्ट वाले स्मार्टफोन के निर्माण पर है। देश में 4जी ने अपने पैर पसार लिए हैं और इसे देखकर लगता है कि अब मोबाइल पर 2जी इंटरनेट का जमाना पुराना हो गया है। जियो के बाजार में आने के बाद अन्य टेलीकॉम कंपनियों ने भी अपने प्लान में बदलाव किया, साथ ही कम कीमत में अधिक 4जी डाटा आॅफर मुहैया कराया गया।

CyberMedia Research (CMR) द्वारा शेयर किए गए आंकड़ों के अनुसार जून 2019 तक 2जी नेटवर्क पूरी तरह से खत्म हो जाएगा। CMR रिसर्च नोट में कहा गया कि, जियो के बाजार में आने से पहले, देश में 2जी मोबाइल इंटरनेट के 2022 तक मौजूद रहने का अनुमान था और इसमें तिमाही औसत दर के हिसाब से करीब 3 प्रतिशत की कमी आ रही थी। हालांकि, जियो की मुफ्त 4जी सेवाओं के कारण बड़ी संख्या में लोगों ने हाई-स्पीड डाटा का इस्तेमाल शुरू कर दिया। जिसके चलते 2जी मोबाइल इंटरनेट में हर तिमाही में करीब 12 प्रतिशत तक की कमी आने लगी।

ETTelecom के अनुसार CMR रिपोर्ट में कहा गया है, कि जियो के बाजार में आने के तुरंत बाद अनुमान लगाया गया था कि देश में 2020 की पहली तिमाही तक मोबाइल सर्विस के लिए 2जी नेटवर्क की छुट्टी हो जाएगी। हालांकि, बाजार को देखते हुए अब ऐसा लगता है कि जून 2019 के आसपास 2जी समाप्त हो जाएगा।

हालांकि, जियो के प्रवेश के बाद, अनुमान बताते हैं कि 2020 की पहली तिमाही तक भारत में 2जी इंटरनेट सेवाओं का उपयोग करने वाले ग्राहकों की संख्या शून्य होगी। यह अग्रिम जियो पर होने वाली गिरावट की दर में घातीय वृद्धि के कारण है, जो हर तिमाही में 12% औसत रहा है।

गौरतलब है कि एयरटेल, वोडाफोन और बीएसएनएल जैसी टेलीकॉम कंपनियों ने कम कीमत वाले एंट्री-लेवल स्मार्टफोन की प्रभावी कीमत कम करने के लिए स्मार्टफोन निर्माताओं के साथ साझेदारी की है। वहीं रिलायंस जियो ने भी पिछले साल जियो फोन के नाम से 4जी इनेबल फीचर फोन लॉन्च किया था। ताकि फीचर फोन उपभोक्ताओं को भी 4जी डाटा का लाभ मिल सके।

  • Published Date: January 12, 2018 9:41 AM IST
  • Updated Date: January 12, 2018 9:42 AM IST