comscore
News
> > > कोर्टाना आपके एंड्राइड फोन से हटा सकता है गूगल असिस्टेंट

कोर्टाना आपके एंड्राइड फोन से हटा सकता है गूगल असिस्टेंट

नया अपडेट उपयोगकर्ताओं को Microsoft Cortana को एंड्रॉइड डिवाइस के डिफॉल्ट स्पीकर के रूप में सेट की सुविधा देता है।

cortana-android-launch

माइक्रोसॉफ्ट के निजी वॉयस असिस्टेंट कोर्टाना को नया अपडेट प्राप्त हुआ है जिसके बाद यूजर्स इसे एंड्राइड डिवाइस में डिफॉल्ट असिस्टेंट के रूप में सेट कर सकते हैं। इस एप को फोन या टैबलेट में डिफॉल्ट होने के लिए गूगल के गूगल असिस्टेंट फीचर को ओवरराइड कर सकता है। नया अपडेट पहले से ही गूगल प्ले स्टोर पर उपलब्ध है। यूजर्स सेटिंग्स में जाकर कोर्टाना को डिफॉल्ट एप के रूप में सेट कर सकते हैं।

सिस्टम पर कोर्टाना को एक्टिव करने के लिए यूजर्स को केवल होम बटन पर थोड़ी देर तक प्रेस करने की आवश्यकता है और इसके बाद कोर्टाना एक्टिवेट हो जाएगा, जिसे सामान्य रूप से उपयोग कर सकते हैं। यह नया फीचर गूगल प्ले पर 2.8 अपडेट का हिस्सा है और इसकी जानकारी पहली बार एंड्राइडपुलिस वेबसाइट पर देखी गई। इस एप को डेस्कटॉप और फोन के बीच नोटिफिकेशन प्राप्त करने के लिए कोर्डिनेट कर सकते हैं।

इसे भी देखें: माइक्रोसॉफ्ट ने लॉन्च किया हिडन फिंगरप्रिंट स्कैनर के साथ मॉडर्न की-बोर्ड

एक आर एप के एक्टिवेट हो जाने पर यह यूजर से साइन इन करने के लिए पूछेगा और इसमें मल्टीपल आॅप्शन जैसे लॉक स्क्रीन सपोर्ट दिया ​गया है। यूजर्स कोर्टाना को डिफॉल्ट ब्राउजर के रूप में सेट कर सकते हैं। इसके बाद यह आपको अधिसूचना का फीड देगा। सेटिंग्स में यूजर्स को “Assist and Voice Input” का विकल्प चुनना होगा। जहां यूजर्स डिफॉल्ट सेटिंग को कोर्टाना में बदल सकते हैं। हालांकि कोर्टाना को केवल डिवाइस पर होम बटन दबाने से एक्टिव कर सकते हैं। यह लॉन्च के लिए डायरेक्ट वॉयस कमांड को स्वीकार नहीं करता है।

इसे भी देखें: Moto C Plus को टक्कर देंगे शाओमी Redmi 4, माइक्रोमैक्स Evok Power और कूलपैड Note 5 Lite, जानें क्या है अंतर

सामने आई जानकारी के अनुसार कोर्टाना केवल पोट्रेट मोड में कार्य करता है और यह इसे लैंडस्कैप मोड में साधारण तरीके से उपयोग करने की कोशिश करता है। फोन में आने वाली मिस्ड कॉल को यूजर्स डेस्कटॉप और डेस्कटॉप कलेंडर रिमाइंडर में आॅटोमेटीकली नोटिफिकेशन के रूप में दिखाता है। कुल मिलाकर गूगल प्ले स्टोर अपडेट सेक्शन के सुझाव के मुताबिक एप परफॉर्मेंस को बढ़ावा देता है।

हालांकि नया अपडेट गूगल डिवाइस पर आ गया है, एप्पल यूजर्स के लिए डिफॉल्ट ​असिस्टेंट के बाद कोर्टाना दूसरा विकल्प है। कोर्टाना को साधारण रूप से सिस्टम डिफॉल्ट असिस्टेंट के रूप में उपयोग किया जा सकता है। जबकि नए​ विकल्प में यह साधारण और आसान है। यह पहली बार है जब इस एप को अपडेट किया गया है।

इसे भी देखें: अरे वाह! शाओमी Redmi 4 आॅफलाइन स्टोर पर जल्द होगा उपलब्ध