comscore
News

गूगल अमेरिका में दिखा सकता है सर्च नतीजे

गूगल अब अमेरिका में भी अपने सर्च रिजल्ट दिखा सकता है।

  • Published: November 6, 2017 7:00 PM IST
Google-search

अमेरिका के एक न्यायाधीश ने कनाडा के सर्वोच्च न्यायालय द्वारा दिए गए हाल में एक फैसले को आंशिक रूप से पलट दिया है, जिसमें गूगल को अपने सर्च नतीजों को न सिर्फ कनाडा में डीलिट करने का आदेश दिया गया था, बल्कि हर देश से डीलिट करने को कहा गया था।

फॉर्चून की शुक्रवार देर रात प्रकाशित खबर के मुताबिक, “कनाडा के सर्वोच्च न्यायालय के फैसले को अमेरिकी कानूनों का उल्लंघन करार देते हुए तथा अभिव्यक्ति के लिए खतरा बताते अमेरिका के जिला न्यायाधीश एडवर्ड डाविला ने गूगल को एक अस्थायी निषेधाज्ञा जारी की है कि वह अमेरिका में अपने सर्च नतीजों को दिखा सकता है।” इसे भी देखें: यूट्यूब मोबाइल एप में HDR वीडियो अब 1080p पर किया जाएगा प्ले

न्यायाधीश ने कहा कि गूगल को स्पष्ट रूप से धारा 230 के तहत संरक्षण की योग्यता है और इसे खोज परिणामों (जो कि अन्य वेबसाइटों के आधार पर स्वचालित रूप से उत्पन्न होते हैं) के लिए उत्तरदायी बनाना कंपनी के साथ एक प्रकाशक के रूप में गलत सलूक होगा। धारा 230 यह सुनिश्चित करता है कि ऑनलाइन प्लेटफार्मो को उसके लिए जिम्मेदार नहीं ठहराया जा सकता, जो उसके यूजर पोस्ट करते हैं। निष्कर्षो के आधार पर डाविला ने कहा कि उन्हें पहला संशोधन के सवाल पर फैसला करने की जरूरत नहीं है, क्योंकि उन्होंने यह ध्यान दिया है कि कनाडा के फैसले में अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के निहितार्थ भी हैं। इसे भी देखें: फ्लिपकार्ट पर चल रहे Samsung Mobiles Fest में कई मोबाइल पर मिल रहा शानदार डिस्काउंट

फॉर्चून ने इस फैसले के हवाले से कहा, “मध्यस्थों को तृतीय-पक्ष सामग्री के लिंक हटाने के लिए मजबूर करके, कनाडा का आदेश धारा 230 के नीतिगत लक्ष्यों को कम करता है तथा वैश्विक इंटरनेट पर अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता के लिए खतरा है।” अब, अगर गूगल अपने सर्च नतीजों को अमेरिका में दुबारा दिखाता है तो यह कनाडा के सर्वोच्च न्यायालय के फैसले के खिलाफ होगा। वर्तमान में, गूगल को 300 से ज्यादा सर्च नतीजों को दबाने के आदेश दिए गए हैं। कनाडा की सर्वोच्च अदालत ने जून के अपने फैसले में 7-2 के अंतर से गूगल पर सर्च नतीजों को प्रकाशित करने पर रोक का फैसला सुनाया था। इसे भी देखें: Gionee जल्द भारत में लॉन्च करेगा अपना पहला बेजल-लैस स्मार्टफोन

  • Published Date: November 6, 2017 7:00 PM IST