comscore
News

व्हाट्सएप पर फैल रही अफवाहों को रोकने के लिए सरकार ने दिया ये निर्देश

फेसबुक के स्वामित्व वाले व्हाट्सएप पर गलत जानकारी को रोकने के लिए सरकार की तरफ से निर्देश दिए गए हैं।

WhatsApp Pixabay feat

सोशल मीडिय मैसेजिंग प्लेटफॉर्म व्हाट्सएप पर फैल रहे फेक मैसेज को लेकर भारतीय सरकार ने कंपनी को निर्देश दिया है। इस कदम को इसलिए उठाया गया है क्योंकि काफी दिनों से व्हाट्एसप पर झूठी अफवाहें फैल रही हैं। इन अफवाहों से लोगों की मौत भी हो रही है।

केंद्र सरकार ने व्हाट्सएप से फेक मैसेज को चेक करने का निर्देश दिया है। सरकार द्वारा उठाया गया यह कदम हाल ही में कुछ घटनाओं को देखते हुए उठाया गया है। दरअसल, कुछ दिनों पहले एक मैसेज व्हाट्सएप पर काफी वायरल हुआ था जो एक व्यक्ति की मौत का कारण भी बना।

मीडिया रिपोर्ट्स के कुछ दिनों पहले व्हाट्सएप पर एक बच्चा चोरी का मैसेज तेजी से वायरल हुआ। इस मैसेज को सच मानकर भीड़ ने बेगुनाह लोगों की पीट-पीटकर हत्या कर दी। हाल में एक मामला महाराष्ट्र में सामने आया था। जहां भीड़ ने 5 लोगों को बच्चा चोर होने के शक में पीट-पीटकर मार डाला। इसके अलावा झारखंड में भी कुछ ऐसा ही मामला सामने आया था।

मिनिस्ट्री की ओर से कहा गया है कि वह इस मामले में शामिल लोगों को पकड़ने के लिए आवश्यक कदम उठा रहे हैं। हालांकि, व्हाट्सएप पर फर्जी न्यूज और डिक्टेड वीडियो का फैलना अधिकारियों के लिए चिंता का कारण बना हुआ है। जबकि व्हाट्सएप की अपनी प्राइवेसी और डाटा प्रोटेक्शन नियम हैं।

20 करोड़ से अधिक मंथली एक्टिव यूजर्स के साथ भारत व्हाट्सएप के लिए सबसे बड़ी मर्केट है। मैसेजिंग एप्लिकेशन पर झूठी खबरों और वीडियो के फैलना फेसबुक के लिए एक नई चुनौती बन गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार बच्चों के अपहरणकर्ताओं के बारे में झूठे मैसेज से भारत में एक दर्जन से ज्यादा लोगों की पिटाई और तीन लोगों की मौत हुई है।

  • Published Date: July 4, 2018 10:41 AM IST