comscore
News

रिलायंस जियो ने की पुष्टि, ऑनलाइन मौजूद JioCoin एप्स हैं फेक

JioCoin एप्स और वेबसाइटों से सावधान रहें जो आपको ऑनलाइन दिखाई दे रही हैं।

  • Published: February 1, 2018 9:35 AM IST
reliance-jio-agm

पिछले हफ्ते खबर सामने आई थी कि रिलायंस की क्रिप्टो करंसी JioCoin की कुछ नकली वेबसाइट और एप्स ऑनलाइन स्पॉट किए जा रहे हैं। एंड्राइड प्लेटफॉर्म पर लगभग 22 फर्जी JioCoin एप्स डाउनलोड के लिए मौजूद थे। वहीं, अब इन खबरों के सामने आने के बाद रिलायंस जियो को सामने आना पड़ा है। कंपनी ने इस बात की पुष्टि कर दी है कि इनमें से कोई भी एप असली नहीं है।

रिलायंस जियो द्वारा जारी किए गए एक बयान में कहा, “रिलायंस जियो के कथित JioCoin एप्स के अस्तित्व के बारे में मीडिया और अन्य वेबसाइटों में आ रहा है कि इसमें लोगों से क्रिप्टो मुद्राओं में निवेश की मांग कि जा रही है।”

कंपनी ने आगे चेतावनी दी, “रिलायंस जियो, सार्वजनिक और मीडिया को सूचित करना चाहती है कि कंपनी या उसके सहयोगियों द्वारा इस तर का कोई एप पेश नहीं किया गया है। कोई भी ऐसे एप्स जो JioCoin नाम का प्रयोग कर रहे हैं वह नकली हैं और लोगों को सलाह दी जाती है कि उनमें से किसी का प्रयोग करने से बचें। ”

इनमें से कुछ एप्लिकेशन और वेबसाइट नाम और ईमेल पता सहित उपयोगकर्ताओं की जानकारी मांग रही हैं। इन वेबसाइटों को एक आधिकारिक वेबसाइट की तरह दिखाने के लिए डिजाइन किया गया है, जो कि रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड (आरआईएल) के आइकॉन के साथ दिखाई देती है।

इस महीने की शुरुआत में कंपनी की कथित योजनाओं से जुड़े सूत्रों ने दावा किया कि 50 यूवाओं की टीम का नेतृत्व मुकेश अंबानी के बड़े बेटे आकाश अंबानी करेंगे, जो JioCoin परियोजना पर काम करेंगे। 25 वर्षों की औसत आयु वाली इस टीम के लोग blockchain टेक्नोलॉजी पर काम करेंगे।

  • Published Date: February 1, 2018 9:35 AM IST