comscore
News

स्मार्टफोन खरीदते समय इन बातों का रखेंगे ध्यान तो नहीं होंगे परेशान

स्मार्टफोन खरीदने से पहले अपनी जरूरत के हिसाब से स्पेसिफिकेशन की लिस्ट तैयार कर लें।

Smartphones launched in India in March 2018-gallery

अक्सर हम जब कोई स्मार्टफोन खरीदने जाते हैं तो उसकी स्पेसिफिकेशंस के बारे में हम काफी कन्फ्यूज हो जाते हैं। ऐसे में अच्छा होगा कि आप स्मार्टफोन खरीदने से पहले अपनी जरूरत के हिसाब से स्पेसिफिकेशन की लिस्ट तैयार कर लें तो आपको ज्यादा परेशानी नहीं होगी। हम आपको यहां ऐसी ही कुछ चीजों की जानकारी दे रहे हैं जो नया स्मार्टफोन खरीदते समय आपके लिए काफी फायदेमंद साबित हो सकती हैं…

बड़ा डिस्प्ले (18:9 एस्पेक्ट रेश्यो)

यह ऐसा फीचर है जो 2018 में लॉन्च होने वाले लगभग सभी स्मार्टफोन में आ रहा है। 18:9 एस्पेक्ट रेशियो का कोई भी असर डिवाइस के परफॉर्मेंस पर नहीं पड़ता है, लेकिन इससे हैंडसेट का लुक काफी स्टाइलिश नजर आता है और आपको हैंडसेट में बड़ी स्क्रीन मिलती है।

बैटरी: 3000mAh

सैमसंग के गैलेक्सी नोट 7 में बैटरी ब्लास्ट की खबरों के बाद अब ज्यादातर कंपनियां काफी सतर्क हो गई हैं। वे अब फोन में ज्यादा पावर वाली बैटरी देने से बच रही हैं। हालांकि, बेसिक यूसेज के साथ स्मार्टफोन को पूरे दिन ऑपरेट करने के लिए 3,000 mAh की बैटरी काफी है। अगर आपके स्मार्टफोन में इससे कम बैटरी है तो आपको सिंगल चार्ज पर पूरे दिन स्मार्टफोन ऑपरेट करने में परेशानी आ सकती है।

रियर ड्यूल कैमरा सेटअप

स्मार्टफोन के लिए ड्यूल कैमरा अब बेसिक स्टैंडर्ड बन गया है। हालांकि, सिंगल रियल कैमरे से भी अच्छी फोटो क्लिक की जा सकती है, अगर उसका कैमरा पावरफुल हो। सेकेंडरी कैमरे से आप और अच्छी क्वॉलिटी की फोटो ले सकते हैं। इसलिए ध्यान रखें कि आपके अगले स्मार्टफोन में डुअल कैमरा सेटअप होना चाहिए।

स्टोरेज: 64GB इंटरनल स्टोरेज

ज्यादातर स्मार्टफोन स्टोरेज पूरी होने पर हैंग करने लगते हैं। इसके अलावा स्मार्टफोन में मौजूद पूरी इंटरनल स्टोरेज आपको नहीं मिलती है। इसमें से कुछ स्टोरेज हैंडसेट ऑपरेशन में इस्तेमाल हो जाती है। इसलिए जरूरी है कि आपके स्मार्टफोन में कम से कम 64GB की इंटरनल स्टोरेज मौजूद हो जिससे आपको फ्री स्पेस के लिए पॉप अप की परेशानी नहीं झेलनी पड़ेगी।

रैम: 4GB

स्मार्टफोन की रैम ऐप्स को लोड करने और मल्टीटास्किंग में अहम भूमिका निभाती है। इसलिए अगर आप हेवी ऐप्स का इस्तेमाल करते हैं तो यह ध्यान रखें कि आपको फोन में कम से कम 4GB रैम हो।

डिसप्ले: फुल एचडी

स्मार्टफोन की डिसप्ले क्वॉलिटी काफी अहम होती है क्योंकि इससे आपको विजुअल एक्सपीरियंस मिलता है। ज्यादातर बजट कैटेगरी में आने वाले स्मार्टफोन फुल एचडी डिसप्ले के साथ आ रहे हैं जिनका रिजॉल्यूशन 1920X1080p होता है।

एंड्रॉइड ओरियो का साथ

गूगल ने अपनी एनुअल कॉन्फ्रेंस में एंड्रॉइड पी बीटा वर्जन के रोलआउट की घोषणा की थी। हालांकि आपको नए स्मार्टफोन में यह वर्जन अभी तो नहीं मिलेगा, लेकिन आप इतना ध्यान रखें कि आप जो स्मार्टफोन ले रहे हैं वो एंड्रॉइड ओरियो पर चलना चाहिए।

प्रोसेसर

स्मार्टफोन में प्रोसेसर कोर मल्टी टास्किंग और हैंडसेट की स्पीड पर फर्क डालता है। इसलिए नया फोन खरीदने समय ध्यान रखिए कि आप कम से कम ऑक्टा कोर प्रोसेसर वाला फोन खरीदें।

  • Published Date: May 14, 2018 5:20 PM IST
  • Updated Date: May 14, 2018 5:41 PM IST