comscore
News

वोडाफोन के यूजर्स हुए कम, जानें क्या है कारण

सरकार ने आइडिया और वोडाफोन के मर्जर को फाइनल मंजूरी दे दी है।

vodafone-stcok-image

टेलीकॉम सेक्टर जगत की दिग्गज कंपनियों में शामिल वोडाफोन इंडिया ने खुलासा किया है कि उसके यूजर्स बेस में 30 लाख तिमाही दर तिमाही गिरावट आई है। वोडाफोन का सब्सक्राइबर्स बेस का कम होना दिखाता है कि ग्राहक दूसरे टेलीकॉम कंपनियों द्वारा पेश किए जा रहे कम कीमत वाले प्लान की ओर आकर्षित हो रहे हैं।

वोडाफोन इंडिया का कुल यूजर्स बेस अब 21.97 करोड़ है। वोडाफोन का कहना है कि देश में डाटा यूजर्स की संख्या में वृद्धि जारी है। टेलीकॉम ऑपरेटर का दावा है कि 7.7 करोड़ डाटा यूजर्स हैं, जिनमें से 3.09 करोड़ 4जी डाटा यूज करते हैं।

वोडाफोन ने यह भी पुष्टि की कि इस क्वार्टर में उसने 4, 900 4जी साइटें जोड़ी हैं। अपने यूजर्स बेस में गिरावट के बावजूद वोडाफोन इंडिया कम मूल्य पर अच्छे प्लान पेश कर अपने ग्राहकों को बनाए रखना चाहती है। बता दें कि कंपनी का contract ARPU 20 प्रतिशत घट गया है, जबकि प्रीपेड ARPU क्वॉर्टर के दौरान 28 प्रतिशत घटा है।

सर्विस रेवन्यू में कंपनी के लिए 22.3 प्रतिशत की गिरावट आई है। भारती एयरटेल और रिलायंस जियो जैसी कंपनियों से वोडाफोन को कड़ी टक्कर मिल रही है। आपको बता दें कि सरकार ने आखिरकार आइडिया और वोडाफोन के मर्जर को मंजूरी दे दी है, जिसके बाद बनने वाली नई कंपनी देश की सबसे बड़ी मोबाइल ऑपरेटर होगी। मर्जर के बाद बनने वाली नई कंपनी का नाम ‘वोडाफोन आइडिया लिमिटेड’ पर पहले ही मुहर लगा चुकी है।

 

  • Published Date: July 27, 2018 9:12 AM IST