comscore
News

JioPhone पर व्हाट्सएप और यूट्यूब ऐसे करेगा काम, देखें पहली झलक

फीचर फोन के मार्केट में जियो नंबर वन पोजिशन पर है।

JioPhone 4

टेलीकॉम इंडस्ट्री में प्राइस वार की जंग के बाद जिस सेगमेंट में रिलायंस जियो ने बड़ी उपलब्धि हासिल की वो फीचर फोन का मार्केट है। एक साल में ही कंपनी ने इस सेगमेंट में दूसरी कंपनियों को पीछे छोड़कर नंबर वन पोजिशन हासिल कर ली है। कंपनी का रिलायंस जियो फीचर फोन भारतीय मार्केट में काफी पॉप्यूलर रहा। हालांकि कंपनी की बिजनेस स्ट्रैटजी को भी इस फोन की सफलता का बड़ा श्रेय दिया जाता है, जिसमें कंपनी तीन साल बाद कस्टमर को फोन का पूरा पैसा वापस कर रही है। ऐसे में यह फोन इफेक्टिवली आपके लिए फ्री होगा।

रिलायंस इंडस्ट्रीज ने अपनी 41वीं एनुअल जनरल मीटिंग में रिलायंस जियो फोन को एक और अच्छी डील के साथ ऑफर किया है। इस डील का नाम जियोफोन मॉनसून हंगामा ऑफर है। इस डील के तहत कस्टमर किसी भी पुराने फीचर फोन को बदलकर 501 रुपये में जियो फोन खरीद सकता है। कंपनी का जियोफोन मॉनसून हंगामा ऑफर 20 जुलाई (5:01PM) से शुरू होगा है।

अपनी एनुअल जनरल मीटिंग में रिलासंय जियो ने जियोफीचर फोन 2 की घोषणा के साथ तीन पॉप्यूलर ऐप व्हाट्सएप, यूट्यूब और फेसबुक को भी फीचर फोन में देने की घोषणा की थी। भारत में यह तीनों ऐप काफी पॉप्यूलर हैं। कंपनी 15 अगस्त से इन तीनों ऐप को सिस्टम अपडेट के जरिए जियो फीचर फोन में देगी। इसका मतलब है कि आप जियो फीचर फोन में इन तीनों ऐप का इस्तेमाल कर पाएंगे। कंपनी ने फीचर फोन में वॉयस सर्च ऑप्शन के अलावा गूगल असिस्टेंट के भी फीचर को जोड़ा है।

कंपनी अब अपने इस वादे को पूरा करते हुए 15 अगस्त को सभी यूजर्स को इन तीनों ऐप का अपडेट देगी। लेकिन, हमें कंपनी की ओर से रिव्यू यूनिट मिला था, जिसमें यह तीनों ऐप्स पहले से मौजूद थे। आप इस वीडियो को BGR HINDI के फेसबुक पेज पर जाकर देख सकते हैं।

हमने इन तीनों ऐप्स का इस्तेमाल करके देखा और पाया की यह तीनों ऐप्स और गूगल असिस्टेंट अच्छे ढंग से काम कर रहे थे। हालांकि हमारे पास एक पुराना जियो फीचर फोन भी है जिसमें फेसबुक पहले से ही चल रहा है। आइए जानते हैं कि कैसे जियो फीचर फोन में ये ऐप्स चल रही हैं…

व्हाट्सएप


सबसे पहले हमने जियोफीचर फोन में इंस्टैंट मैसेंजर ऐप व्हाट्सएप का इस्तेमाल करके देखा। जियोफोन में व्हाट्सएप को इंटरफेस काफी आसान है, आप इसका आसानी से इस्तेमाल कर पाएंगे। आप आसानी से व्हाट्सएप पर मैसेज और टेक्सट दूसरे यूसर्ज को भेज और रिसीव कर सकते हैं। आपको ऐप ओपन करते ही कॉन्टैक्ट लिस्ट दिख जाएगी। जियो फीचर फोन पर व्हाट्सएप का इंटरफेस वैसा ही दिखाता है जैसे स्मार्टफोन पर।

हालांकि फीचर फोन में आपको यह छोटे फॉन्ट में दिखता है। यूजर्स फोटो और वीडियो को भेजने के अलावा अपने स्टेटस को भी सेट कर सकते हैं। हालांकि यह ऐप वॉयस और वीडियो कॉलिंग को सपोर्ट नहीं करेगा।

यूट्यूब


भारत में यूट्यूब ऐप काफी पॉप्यूलर है। यह ऐप सभी टारगेट ऑडियंस को उनके हिसाब से कंटेंट ऑफर करती है। हमने जियोफीचर फोन में इस ऐप को ऑपरेट करके देखा था और इस दौरान फोन पर इसका साउंड और स्ट्रीमिंग मुझे अच्छा लगी। आप इस पर आसानी से वीडियो को सर्च कर सकते हैं। इसके अलावा बिना ईयरफोन के आप आसानी से एक रूम में बैठकर इस पर वीडियो का मजा ले सकते हैं।

फेसबुक


जियो फीचर फोन में फेसबुक के इस्तेमाल करने का एक्सपीरियंस वैसा ही था जैसा Java और Symbian फोन में वेब ब्राउजर के दौरान होता है। स्मार्टफोन पर फेसबुक चलाने के बाद फीचर फोन पर इसे चलाना थोड़ा अटपटा लगा। हालांकि जियो का फोकस ऐसे लोगों पर हैं जिन्होंने स्मार्टफोन का अभी तक इस्तेमाल नहीं किया है। ऐसे में उन लोगों को फेसबुक का यह वर्जन अच्छा लग सकता है।

 

गूगल असिस्टेंट


जियो ने अपने फीचर फोन में गूगल असिस्टेंट का भी फीचर जोड़ा है। आप इसकी मदद से आसानी से वॉयस कमांड के जरिए ऐप्स और कंटेंट को ऑपरेट कर सकते हैं। उदाहरण के तौर पर हमने गूगल असिस्टेंट के जरिए फेसबुक और यूट्यूूब को ऑपरेट किया और वह आसानी से ओपन हो गए। हालांकि इस फीचर के इस्तेमाल के लिए आपके पास स्ट्रांग डाटा कनेक्शन होना चाहिए।

ओवरऑल बात की जाए तो 1,500 रुपये में अब फीचर फोन काफी खास बन गया है। ऐप्स को लोड होने में थोड़ा समय जरूर लगता है, लेकिन अगर कीमत के हिसाब से स्पेसिफिकेशंस को देखा जाएं तो यह एक अच्छी डील है। ऐसी उम्मीद है कि इन तीनों ऐप्स के जुड़ने से अब भारतीय मार्केट में फीचर फोन का मार्केट और बढ़ेगा।

  • Published Date: July 20, 2018 1:21 PM IST
  • Updated Date: August 15, 2018 9:47 AM IST