comscore
News

अपने प्रतिद्वंदियों को पीछे छोड़ते हुए भारत में बड़ा लाभ अर्जित कर रहा है Xiaomi

Xiaomi न केवल भारत में दूसरा सबसे बड़ा स्मार्टफोन ब्रांड बन गया है, लेकिन बड़े पैमाने पर यह पैसा भी कमा रहा है।

  • Published: December 7, 2017 1:40 PM IST
xiaomi logo

Xiaomi को भारत में आये लगभग 3 साल हो गए हैं, और अनजानी कंपनी अब भारत में एक जानी मानी कंपनी बन गई है, यहाँ तक आलम यह है कि यह भारत की दूसरी सबसे बड़ी स्मार्टफोन ब्रांड के तौर पर उभर कर सामने आई है। हालाँकि महज इसे यह पदवी नहीं मिली है, बल्कि कंपनी ने बड़े पैमाने पर पैसा भी कम लिया है, और अपने सभी प्रतिद्वंदियों को निरंतर पीछे छोड़कर आगे बढ़ती हुई Xiaomi अब भारत में बड़े लाभ अर्जित कर रही है। आपको बता दी कि Xiaomi ने FY 2017 में लगभग Rs. 164 करोड़ रुपये का लाभ अर्जित किया है।

वहीँ अगर इस आंकड़े पर हम पिछले साल नजर डालें तो यह महज Rs. 47 करोड़ ही था। इसके अलावा इस साल भी Xiaomi का राजस्व बढ़ रहा है। जैसा की हम आपको बता रहे थे कि Xiaomi आज भारत में एक दूसरा सबसे बड़ा स्मार्टफोन ब्रांड बन गया है, तो आपको यह भी बता दी की इस साल कंपनी ने लगभग Rs. 8,380 करोड़ की सेल की है। वहीँ अगर पिछले साल के आंकड़ों पर नजर डालें तो यह महज Rs. 1,046 करोड़ ही था।

राजस्व में हुई इस बढ़ोत्तरी को अर्जित करते हुए और अपने घाटों को मुनाफों में तब्दील करते हुए Xiaomi ने अपने सभी प्रतिद्वंदियों को धूल चटा दी है। अगर हम Xiaomi के राजस्व यानी RS. 8,380 करोड़ पर ध्यान दें तो इसने भारत की घरेलू कंपनी न होते हुए भी यह आंकड़ा अर्जित कर लिया है, जबकि भारत की घरेलू कंपनी जैसे माइक्रोमैक्स और इंटेक्स ने क्रमश: महज Rs. 5,614 करोड़ और 4,364 करोड़ का राजस्व ही अर्जित किया है। अब यहाँ यह देखने में आ रहा है कि इन दोनों भारतीय कंपनियों के राजस्व में निरंतर कमी आ रही है जबकि Xiaomi निरंतर आगे की ओर बढ़ रहा है। आपको बता दें कि Micromax के राजस्व में इस साल लगभग 42% की गिरावट आंकी गई है, जबकि अगर हम Intex की चर्चा करें तो यह लगभग 30 फीसदी गिरावट को झेल चुका है। इसके अलावा अगर हम Xiaomi की चर्चा करें तो यह लगभग 696 फीसदी लाभ अर्जित करने में सफल रहा है।

इस विकास को इसलिए भी प्रभावशाली तौर पर देखा जा रहा है क्योंकि Xiaomi को जैसा कि मैंने आपसे अभी कहा है कि भारतीय बाजार में आये इस कंपनी को महज तीन साल का समय ही बीता है, और इतने कम समय में इसने इस तरह से अपने आप को साबित किया है। हालाँकि इसके लिए कंपनी ने काफी मेहनत भी की है, जैसे इस कम समय में कंपनी ने भारत के यूजर्स को पहचाना है, और उसके अनुसार ही प्रोडक्ट्स को उतारा है। सबसे बड़ा फैक्टर यहाँ कीमत रहा है, कम कीमत में कंपनी ने भारतीय यूजर्स को फ्लैगशिप जैसे फीचर्स वाले स्मार्टफोन दिए हैं। और यह अन्य कोई भी कंपनी करने में सक्षम नहीं है। इसके अलावा अपने प्रतिद्वंदियों से कम कीमत में कंपनी ने जबरदस्त प्रोडक्ट्स को लॉन्च करके काफी कुछ नया करने की कोशिश की है, और यह उसमें सफल भी रहा है। अर्थात् कुलमिलाकर कहा जा सकता है कि अभी तक भारतीय बाजार में कंपनी के लिए कुछ भी गलत नहीं हुआ है।

  • Published Date: December 7, 2017 1:40 PM IST