comscore
News

भारतीय उपभोक्ता पासवर्ड के बजाय बायोमेट्रिक को करते हैं सपोर्ट: वीजा

रिपोर्ट के अनुसार भारतीय यूजर्स पासवर्ड पर बायोमेट्रिक सत्यापन अपनाने के इच्छुक हैं।

  • Published: January 17, 2018 11:48 AM IST
visa-payment-service

प्रमुख डिजिटल भुगतान कंपनी वीजा की रिपोर्ट के मुताबिक 99 प्रतिशत उत्तरदाताओं का कहना है कि वह व्यक्तिगत रूप से अपनी पहचान सत्यापित करने के लिए कम से कम एक बायोमेट्रिक पद्धति का उपयोग करने में रुचि रखते हैं और एक समान संख्या में प्रतिभागियों ने कहा कि वह भुगतान करने के लिए कम से कम एक बॉयोमीट्रिक पद्धति का उपयोग करने में रुचि रखते हैं।

रिपोर्ट में कहा गया है कि भारतीय उपभोक्ता डिजिटल लेनदेन में कार्ड के माध्यम से भुगतान के समय सत्यापन के लिए पारंपरिक पासवर्ड और पिन के बजाय फिंगरप्रिंट, फेस या आवाज की पहचान जैसे बायोमेट्रिक माध्यमों को अपनाने के इच्छुक हैं।

सर्वेक्षण में कहा गया है कि नए तरीके के प्रमाणीकरण प्रौद्योगिकी माध्यमों को पासवर्ड और पिन जैसे पारंपरिक तरीकों की तुलना में अधिक सुगम विकल्प के रूप में देखा जा रहा है। इसके अनुसार पारंपरिक पासवर्ड या पिन को छोटे की बोर्ड के जरिए लिखने में दिक्कत होती है, ग्राहक उन्हें प्राय भूल जाते हैं और उन्हें आसानी से चुराया जा सकता है। यह दर्शाता है कि 51 प्रतिशत उपभोक्ता संवेदनशील बायोमेट्रिक जानकारी के सुरक्षा उल्लंघन के जोखिम के बारे में चिंतित हैं।

भुगतान के लिए बायोमेट्रिक प्रमाणीकरण के उपयोग से जुड़े लाभों की यह धारणा है कि यह पासवर्ड/पिन से अधिक सुरक्षित हैं और यह उपभोक्ताओं को शांति प्रदान करता है कि उनका भुगतान सुरक्षित है।

  • Published Date: January 17, 2018 11:48 AM IST