comscore
News

एयरटेल 'सीमलेस अलाएंस' में शामिल, विमान में मिलेगी कनेक्टिविटी

यह एक वैश्विक गठबंधन है, जिसका लक्ष्य पांच संस्थापक सदस्यों के अलावा उद्योग की अन्य कंपनियों को भी जोड़ना है, जिससे विमान में मोबाइल सेवा मुहैया कराने की लागत में भारी कमी आएगी।

  • Published: February 27, 2018 7:00 PM IST
bharti-airtel-business

भारती एयरटेल सोमवार को ‘सीमलेस अलायंस’ में शामिल हो गई, जो मोबाइल ऑपरेटरों और एयरलाइंस को अपनी सेवाओं को एयरलाइन केबिन में मुहैया कराने में सक्षम बनाती है। कंपनी ने यहां एक बयान में यह जानकारी दी। ‘सीमलेस अलाएंस’ के गठन की सोमवार को बार्सिलोना में घोषणा की गई।

इस गठबंधन के तहत मोबाइल ऑपरेटर्स (एयरटेल समेत) अपने ग्राहकों को सैटेलाइट प्रौद्योगिकी के माध्यम से धरती जैसी मोबाइल सेवाएं विमान में मुहैया कराएंगी। इससे इन सेवाओं की लागत में भी महत्वपूर्ण कमी आएगी, जिससे हर किसी को फायदा होगा। इस गठबंधन के अन्य संस्थापक सदस्यों में वनवेब, एयरबस, डेल्टा और स्पिरिंट शामिल हैं।

यह एक वैश्विक गठबंधन है, जिसका लक्ष्य पांच संस्थापक सदस्यों के अलावा उद्योग की अन्य कंपनियों को भी जोड़ना है, जिससे विमान में मोबाइल सेवा मुहैया कराने की लागत में भारी कमी आएगी।

भारती एयरटेल के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (भारत और दक्षिण एशिया) गोपाल विट्ठल ने कहा, “हम इन नवीन प्रौद्योगिकी मंच के संस्थापक सदस्य बनकर खुश हैं, जो ग्राहकों को सही अर्थो में निर्बाध कनेक्टिविटी मुहैया कराएगी। एयरटेल वैश्विक नेटवर्क के 37 करोड़ से अधिक ग्राहक अब विमान में अबाधित हाई स्पीड डेटा सेवाओं का आनंद ले सकेंगे।” एयरटेल दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी मोबाइल ऑपरेटर है, जो एशिया और अफ्रीका के 16 देशों में अपनी सेवाएं प्रदान करती है।

  • Published Date: February 27, 2018 7:00 PM IST