comscore
News

नासा को काम में मदद कर रहा अमेजन Alexa

इस केंद्र में फिलहाल लगभग 6,000 कर्मचारी कार्यरत हैं।

  • Published: June 21, 2018 3:51 PM IST
Amazon Alexa 805

अमेजन की बुद्धिमान वर्चुअल सहायक अलेक्सा का उपयोग आप जहां अपना पसंदीदा गाना गाने में या उबर कैब बुक करने के लिए करते हैं, वहीं अमेरिका की अंतरिक्ष एजेंसी नासा आंतरिक आंकड़ों का सैट बनाते समय इसकी सहायता से अपने दैनिक कार्यो को व्यवस्थित करती है।

नासा के जेट प्रोपल्सन लैबोरेटरी (जेपीएल) के आईटी के मुख्य प्रौद्योगिकी और नवाचार अधिकारी टॉम सोडरस्ट्रॉम के अनुसार, एक प्लेटफॉर्म के तौर पर आवाज एक बार फिर बड़ी बात बनेगी, जब हम डिजिटल सहायकों और चैटबोट्स से संवाद करने लगेंगे।

कैलिफोर्निया के पासाडेना स्थित जेपीएल सरकार द्वारा वित्त पोषित एक अनुसंधान और विकास केंद्र है, जिसका प्रबंधन नासा के लिए कैलिफोर्निया प्रौद्योगिकी संस्थान (केलटेक) द्वारा किया जाता है। जेपीएल प्रमुख रोबोटिक अंतरिक्ष और प्रथ्वी विज्ञान मिशन पर काम करता है।

इस केंद्र में फिलहाल लगभग 6,000 कर्मचारी कार्यरत हैं। सोडरस्ट्रॉम ने यहां आयोजित अमेजन वेब सर्विसिस (एडब्ल्यूएस) के सार्वजनिक क्षेत्र के शिखर सम्मेलन में कहा, “अगर आपके घर पर अलेक्सा नियंत्रक अमेजन ईको स्मार्ट स्पीकर है, तो उसे नासा मार्स एप शुरू करने के लिए बोलिए। जब यह पूरा हो जाए तो अलेक्सा को लाल ग्रह के बारे में कुछ भी बोलिए तो वह आपको सही उत्तर देगा।”

सोडरस्ट्रॉम के अनुसार, छह प्रौद्योगिकी तरंगों के आम आदमी को प्रभावित करने से पहले ये डेवलपर को प्राथमिक रूप से बेहतर समाधान निकालने के लिए दबाब बनाती है।

नासा-जेपीएल के कार्यकारी ने जोर देकर कहा कि कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) नौकरियां नहीं छीनेगी, बल्कि यह भविष्य में मानव को मदद करेगी। उन्होंने कहा, “एआई स्वास्थ्य, खुदरा, ई-कॉमर्स और ऑटो तथा परिवहन क्षेत्र को बदलकर रख देगी। जो क्षेत्र एआई को नहीं अपनाएंगे, वे बहुत पीछे छूट जाएंगे।”

उन्होंने कहा कि उत्पादकता बढ़ाने में एआई से लैस डिजिटल सहायकों की भूमिका प्रमुख है। उन्होंने कहा, “मानव 80 फीसदी प्रभावी होते हैं, मशीनें भी 80 फीसदी प्रभावी होती हैं। अगर आप उन्हें साथ रखते हैं तो वे लगभग 95 फीसदी तक प्रभावी हो जाती हैं।”

सोडरस्ट्रॉम ने कहा, “अगली प्रौद्योगिकी सुनामी हर जगह बुद्धिमत्ता निर्माण के रूप में आएगी और दुनिया को इससे निपटने के लिए खुद को तैयार करने की जरूरत है।”

  • Published Date: June 21, 2018 3:51 PM IST