comscore
News

ब्लैकबेरी ने पेटेंट के उल्लंघन के लिए फेसबुक, व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम एप्लिकेशन पर किया मुकदमा दायर

ब्लैकबेरी का कहना है कि फेसबुक ने अनरीड मैसेज के लिए नोटिफिकेशन सहित इसकी चार पेटेंटों का उल्लंघन किया है।

  • Published: March 7, 2018 3:20 PM IST
blackberry keyone front top

ब्लैकबेरी ने फेसबुक के खिलाफ एक पेटेंट उल्लंघन का मुकदमा दायर किया है, जिसमें सोशल नेटवर्क की विशालकाय उसकी तकनीक और फीचर्स की नकल की बात कही गई है। मुकदमे में फेसबुक और उसके स्वामित्व वाली सर्विस जैसे व्हाट्सएप और इंस्टाग्राम भी शामिल हैं और ब्लैकबेरी ने कहा है कि उसने ब्लैकबेरी मैसेंजर के प्रमुख फीचर्स की नकल की है।

अपने मुकदमे में, ब्लैकबेरी का दावा है कि फेसबुक और इसकी पूरी तरह से स्वामित्व वाली सेवाएं जैसे इंस्टाग्राम और व्हाट्सएप ‘मोबाइल मैसेजिंग दुनिया के लिए रिलेटिव लाइटकैमर्स’ हैं। ब्लैकबेरी मुनाफे के लिए निषेधाज्ञा के लिए राहत और नुकसान की मांग कर रही है, लेकिन दावा किया गया नुकसान इसके रिलीज को एक विशिष्ट आंकड़ा लगाने से कम हो जाता है।

इस मुकदमे का दावा है कि फेसबुक ने ब्लैकबेरी की बौद्धिक संपदा के लिए co-opting द्वारा सुरक्षा, यूजर इंटरफेस और कार्यक्षमता बढ़ाकर सुविधाओं सहित अपने मैसेजिंग एप्लिकेशन बनाए। ब्लैकबेरी चार पेटेंटों के उल्लंघन के लिए नुकसान की मांग कर रही है और मुकदमे का केंद्र अनरीड मैसेज के लिए नोटिफिकेशन है।

यह भी दावा किया है कि फेसबुक की चालें अलग-अलग प्लेटफार्मों में अपनी सेवा को एकीकृत करती हैं, जैसे कि फेसबुक पर सीधे इंस्टाग्राम स्टोरीज शेयर करने की क्षमता ब्लैकबेरी के पेटेंट प्रौद्योगिकी पर आधारित होती है। फेसबुक के डिप्टी जनरल काउंसल पॉल ग्रेवाल ने कहा कि कंपनी मुकदमेबाजी से लड़ने का इरादा रखती है।

फेसबुक के जनरल वकील पॉल ग्रेवाल ने एक बयान में कहा, ‘ब्लैकबेरी का सूइट दुख की बात है कि इसके संदेश कारोबार की वर्तमान स्थिति को दर्शाता है। नवाचार करने के अपने प्रयासों को छोड़ने के बाद, ब्लैकबेरी अब दूसरों के नवाचार पर कर लगाने की कोशिश कर रहा है।’

ब्लैकबेरी मैसेंजर, एक बार प्रभावी त्वरित मैसेजिंग प्लेटफॉर्म, संचार के क्षेत्र में फेसबुक के स्वामित्व वाले व्हाट्सएप से पीछे रह गया है। एंड्राइड जैसे प्रतिस्पर्धी प्लेटफार्मों को सेवा प्रदान करने के बावजूद कनाडाई कंपनी भी नया करने में नाकाम रही है। इस मुकदमे को व्यापक रूप से ब्लैकबेरी के सीईओ जॉन चेन के प्रयास के रूप में देखा जाता है, जो 40,000 से अधिक वैश्विक पेटेंटों के अपने धन के साथ पैसे कमाते हैं।

ब्लैकबेरी ने 2017 में Nokia Corp पर 3जी और 4जी वायरलेस कम्युनिकेशन टेक्नोलॉजी से संबंधित पेटेंट का उल्लंघन करने का आरोप लगाया। यह रॉयल्टी भुगतानों पर क्वालकॉम के साथ $940 मिलियन पेटेंट डील भी तय कर चुका है। फेसबुक के खिलाफ मुकदमा सोशल मीडिया के विशाल पेटेंट लाइसेंस समझौते से सहमत होने और रॉयल्टी भुगतान सुनिश्चित करने के प्रयास के रूप में देखा जाता है।

ब्लैकबेरी ने पहले ही अपने मोबाइल उपकरणों के लिए टीसीएल कम्युनिकेशंस, बीबी मेरह पुतिह और ऑप्टिमास के साथ एक ब्रांड लाइसेंसिंग सौदे की घोषणा की है। यह सेल्फ ड्राइविंग कारों के लिए साइबर सुरक्षा सॉफ्टवेयर भी बेच रहा है।

  • Published Date: March 7, 2018 3:20 PM IST