comscore
News

CES 2018: Oculus ने शाओमी Oculus Go और Mi VR स्टैंडअलोन हेडसेट्स लॉन्च करने के लिए की साझेदारी

शाओमी भी Mi VR स्टैंडअलोन नाम से अपना दूसरा VR हेडसेट का निर्माण करेगा, जो चीन मार्केट के लिए एक्सकूलिसिव होगा।

  • Published: January 9, 2018 9:38 AM IST
xiaomi vr oculus go

फेसबुक के स्वामित्व वाले Oculus VR के Hugo Barra ने आज अपना पहला स्टैंडअलोन Oculus Go VR वीआर हेडसेट बनाने के लिए CES 2018 शो में शाओमी के साथ साझेदारी की घोषणा की। शाओमी भी Mi VR स्टैंडअलोन नाम से अपना दूसरा VR हेडसेट का निर्माण करेगा, जो चीन मार्केट के लिए एक्सक्लूसिव होगा। वहीं, दोनों हेडसेट क्वालकॉम के स्नैपड्रैगन मोबाइल VR प्लेटफॉर्म पर बनाए जाएंगे और यह स्नैपड्रैगन 821 SoC पर आधारित होंगे।

Oculus टीम ने अपने ब्लॉग पर बताया है कि, “हमने स्टैंडअलोन VR प्रोडक्ट कैटेरगी की हाई कंप्यूटिंग डिमांड को पूरा करने के लिए परफॉर्मेंस के उच्चतम संभावित स्तर देने के लिए क्वालकॉम के साथ मिलकर काम किया है।”

यह एक दिलचस्प विकास है क्योंकि फेसबुक अभी भी चीन में प्रतिबंधित है। हालांकि, देश में शाओमी एक प्रसिद्ध ब्रांड है। वहीं, एक कारण यह हो सकता है कि फेसबुक चीन में अपनी पहचान बनाने के लिए शाओमी ब्रांड का इस्तेाल करेगा।

Mi VR हेडसेट Oculus Go हेडसेट के समान दिखाई देते हैं। साथ ही यह इसके मुख्य फीचर को भी शेयर करते हैं। Oculus मोबाइल SDK के सपोर्ट के साथ मौजूदा डेवलपर्स कंटेंट को हेडसेट पर पोर्ट कर सकते हैं। शाओमी ने बताया कि कि यह पहले से ही Oculus डेवलपर्स के साथ मौजूदा कंटेंट को लोकलाइज बनाने के लिए काम कर रहा है, जबकि चीन में Mi VR स्टोर भी लाया है।

बता दें कि Oculus Go की घोषणा Oculus और फेसबुक ने पिछले साल 199 डॉलर (लगभग 12,700 रुपए) की कीमत के साथ की थी। वहीं, इसे किसी भी फोन या PC से कनेक्ट करने की आवश्यकता नहीं है। Oculus Go भी मार्केट में उपलब्ध सबसे सस्ती VR सोल्यूशन में से एक है। हालांकि, इसकी रिलीज डेट के बारे में अभी तक कोई भी जानकारी नहीं दी गई है। वहीं, हाल ही में Oculus Go के लिए FCC फाइलिंग में बढ़ी है। जिसके बाद माना जा रहा है कि इसे जल्द ही उपलब्ध कराया जा सकता है।

  • Published Date: January 9, 2018 9:38 AM IST