comscore
News

एरिक्सन ने देश में पहली बार 5जी तकनीक का किया प्रदर्शन

5जी प्रौद्योगिकी में भारतीय दूरसंचार सेवा प्रदाताओं के लिए साल 2026 तक 27.3 अरब राजस्व पैदा करने की क्षमता है।

  • Published: November 18, 2017 11:00 PM IST
5G-logo_500px

भारत में नवीनतम अन्वेषण लाने और 5जी पारिस्थितिकी तंत्र तैयार करने के उद्देश्य से संचार प्रौद्योगिकी की प्रमुख वैश्विक कंपनी एरिक्सन ने शुक्रवार को पहली बार 5जी का सजीव एंड-टू-एंड प्रदर्शन किया।

यह प्रदर्शन एरिक्सन के 5जी टेस्ट बेड और 5जी न्यू रेडियो (एनआर) के द्वारा किया गया, जिसमें बेहद कम लेटेंसी 3 मिली सेकेंड के साथ 5.7 गीगा बाइट प्रति सेकेंड की स्पीड प्राप्त हुई। इसे भी देखें: Honor Holly 4 यूरोप में Honor 6A Pro नाम से हुआ लॉन्च, जानें स्पेसिफिकेशन और फीचर्स

एरिक्सन के नवीनतम अध्ययन के मुताबिक, 5जी प्रौद्योगिकी में भारतीय दूरसंचार सेवा प्रदाताओं के लिए साल 2026 तक 27.3 अरब राजस्व पैदा करने की क्षमता है। इसे भी देखें: इन टिप्स को फॉलो कर डाउनलोड करें इस्टाग्राम, फेसबुक और यू्ट्यूब के वीडियो

एरिक्सन के दक्षिण-पूर्व एशिया, प्रशांत क्षेत्र और भारत के बाजारों के प्रमुख नुनजियो मिर्तिलो ने बताया, “हम देश में पहले 5जी प्रदर्शन के आधार पर भारतीय बाजार के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को मजबूत कर रहे हैं। सरकार ने 2020 तक देश में 5जी नेटवर्क को लाने की योजना बनाई है, एक मजबूत 5जी पारिस्थितिक तंत्र के निर्माण की दिशा में इस प्रदर्शन का आयोजन किया गया।” इसे भी देखें: याहू मेल ने फ्लाइट अपडेट के लिए पेश किए नए फीचर्स

एरिक्सन इंडिया के प्रबंध निदेशक नितिन बंसल ने कहा, “दूरसंचार नेटवर्क में 5जी नए स्तर के प्रदर्शन और विशेषताओं को लेकर आएगी। सेवा प्रदाताओं के लिए राजस्व के नए प्रवाह खुलेंगे। 5जी 2026 तक भारती य ऑपरेटरों के लिए 43 फीसदी वृद्धिशील राजस्व उत्पन्न करने की क्षमता है।”

  • Published Date: November 18, 2017 11:00 PM IST