comscore
News

महाराष्ट्रा में जून में सबसे ज्यादा हुए रैनसमवेयर के अटैक, दिल्ली दूसरे नंबर पर

eScan की रिपोर्ट के मुताबिक जून 2018 में सबसे ज्यादा महाराष्ट्रा में 56% रैनसमवेयर अटैक हुए।

internet-attack

इंटरनेट सिक्योरिटी सॉल्यूशन प्रोवाइडर eScan ने जून 2018 के लिए रैनसमवेयर अटैक के लिए एक रिपोर्ट जारी की है। इस रिपोर्ट के मुताबिक महाराष्ट्रा रैनसमवेयर अटैकिंग मामले में सबसे ऊपर है। रिपोर्ट में कुछ मुद्दों को भी उजागर किया गया है जिसमें बताया गया है कि हमें बेहतर साइबर सिक्योरिटी सिस्टम की जरूरत है। रैनसमवेयर अटैक एक तरह का साइबर क्राइम है जिसमें हैकर कंप्यूटर सिस्टम को किसी सॉफ्टवेयर के जरिए हैक करके यूजर्स के डाटा को इनक्रिप्ट कर लेता है।

इसके बाद हैकर यूजर्स से उसके डाटा के लिए पैसों की मांग करता है। इसमें हैकर यूजर्स को कहता है कि अगर उसे निश्चित समय पर पैसा नहीं मिले् तो यूजर्स अपने सभी डाटा को खो सकता है। रिपोर्ट के मुताबिक जून 2018 में सबसे ज्यादा महाराष्ट्रा में 56% रैनसमवेयर अटैक हुए थे। दुनियाभर में सबसे ज्यादा रैनसमवेयर अटैक के मामले में भारत पांचवें नंबर पर है और एशिया में भारत रैनसमवेयर अटैकिंग मामले में तीसरे नंबर पर है।

भारत में इस तरह के बढ़ते मामलों की एक वजह यह भी है कि भारत अब तेजी से कैशलैस इकनॉमी की तरफ बढ़ रहा है। सरकार के नोटबंदी के फैसले के बाद भारत में तेजी से कैशलैस इकनॉमी का चलन बढ़ा है। इसके अलावा दूसरा कारण तेजी से इंटरनेट मोबाइल का बढ़ना भी है। eScan ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि ऐसे अटैक से बचने के लिए यूजर्स को अपने ऑपरेटिंग सिस्टम और एंटी वायरस को लगातार अपडेट करते रहना चाहिए। रैनसमवेयर अटैक मामले में दिल्ली 13% के साथ दूसरे नंबर पर और गुजरात 12% के साथ तीसरे नंबर पर है। तेलंगाना और तमिलनाडु क्रमश: चौथे और पांचवें नंबर पर हैं।

  • Published Date: July 5, 2018 4:56 PM IST