comscore
News

गूगल के पूर्व प्रमुख ने कहा, AI पर एलन मस्क 'बिल्कुल गलत'

इस पहले इसी सम्मेलन में एआई को लेकर फेसबुक के मुख्य कार्यकारी मार्क जकरबर्ग का मस्क के साथ मौखिक विवाद हो गया था।

  • Published: May 28, 2018 4:41 PM IST
Elon Musk

टेस्ला और स्पेस एक्स के संस्थापक एलन मस्क का कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) और उसके मानवों पर पड़ने वाले प्रभाव को लेकर संशय बिल्कुल गलत है। गूगल के पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी एरिक श्मिट का यह कहना है।

मस्क का मानना है कि एआई मानवता के लिए बुरा होगा और इससे विश्व युद्ध-3 छिड़ सकता है। श्मिट ने शुक्रवार को पेरिस में ‘विवाटेक’ सम्मेलन में कहा, “मैं समझता हूं कि एलन एआई को लेकर ‘बिल्कुल गलत’ हैं।”

प्रौद्योगिकी वेबसाइट सीएनईटी ने श्मिट के हवाले से कहा, “मस्क को इस प्रौद्योगिकी के संभावित दुरुपयोग की चिंता है और मुझे भी यह चिंता है। लेकिन मैं एआई से होनेवाले ढेर सारे लाभ से आश्वस्त हूं।”

श्मिट फिलहाल गूगल की पैरेंट कंपनी अल्फाबेट के निदेशक मंडल के सदस्य हैं। उन्होंने कहा, “एआई लोगों को बेहतर बना देगा और इसका सबसे बड़ा फायदा यही होगा।”

इस पहले इसी सम्मेलन में एआई को लेकर फेसबुक के मुख्य कार्यकारी मार्क जकरबर्ग का मस्क के साथ मौखिक विवाद हो गया था। जकरबर्ग लंबे समय से एआई की संभावनाओं को लेकर आशावादी बने हुए है।

उनके हवाले से बताया गया, “मैं समझता हूं कि एआई सकारात्मक चीजों के नए द्वार खोलेगा, चाहे वह रोगों की पहचान और उपचार हो या कारों की और अधिक सुरक्षित ड्राइविंग। इससे समुदायों की सुरक्षा बढ़ेगी।”

मस्क ने हाल में ही चेतावनी दी थी कि अगर जल्द ही विनियमित या नियंत्रित नहीं किया गया तो एआई एक ‘अमर तानाशाह’ बन जाएगा, जिससे बचना असंभव होगा।

उन्होंने ‘क्या आप इस कंप्यूटर पर भरोसा कर सकते हैं?’ नामक एक नए वृत्तचित्र में कहा, “कम से कम जब एक बुरा तानाशाह होता है, तो वह मनुष्य एक दिन मर जाता है। लेकिन जब एआई तानाशाह होगा तो उसकी मौत नहीं होगी। वह हमेशा के लिए जिंदा होगा, और फिर हम उससे बच नहीं सकेंगे।”

मस्क हमेशा से एआई के आलोचक रहे हैं और इस प्रौद्योगिकी पर नियंत्रण के लिए कड़े नियमन की मांग करते रहे हैं। हाल के एक ट्वीट में मस्क ने कहा कि लोगों को उत्तर कोरिया के खतरे से कहीं अधिक चिंता एआई को लेकर करनी चाहिए।

  • Published Date: May 28, 2018 4:41 PM IST