comscore
News

हैकर्स का दावा: बॉटनेट से 18,000 हुवावे राउटर्स को बनाया गुलाम

जेडडीनेट डॉट कॉम की रिपोर्ट में इस बात की पुष्टि हुई है।

  • Published: July 22, 2018 4:37 PM IST
Huawei MWC 2018 805px

एक हैकर ने दावा किया है कि उसने एक ऐसा बॉटनेट बनाया है, जिसने 24 घंटों के अंदर चइनीज टेलीकॉम कंपनी हुआवे के 18,000 राउटरों को अपना गुलाम बना लिया है। जेडडीनेट डॉट कॉम की रिपोर्ट में कहा गया कि छद्म नाम एनार्की का इस्तेमाल करनेवाले साइबर हमलावर ने एक पुरानी भेद्यता का फायदा उठाकर इस बॉटनेट को बनाया है।

ब्लीपिंग कंप्यूटर की रिपोर्ट के मुताबिक, इस नए बॉटनेट को पहली बार साइबरसिक्योरिटी कंपनी न्यूस्काई सिक्योरिटी के सुरक्षा शोधकर्ताओं ने पिछले हफ्ते पकड़ा।

इस खबर के सामने आने के बाद अन्य सुरक्षा कंपनियां, जिसमें रेपिड7 और क्विहो 360 नेटलैब भी शामिल हैं, ने भी इस नए खतरे की पुष्टि की और कहा कि उन्होंने हुआवे के डिवाइस की स्कैनिंग में हाल ही में बड़ी तेजी देखी। सुरक्षा शोधकर्ताओं को जिस चीज ने सबसे अधिक आश्चर्य में डाला। वह यह था कि अर्नाकी ने गीगैंटिक बॉटनेट को महज एक दिन में एक पुरानी भेद्यता की मदद से तैयार कर लिया।

क्या है बॉटनेट

बॉटनेट्स गुलाम बने डिवाइसों के एक विशाल नेटवर्क को कहते हैं। इसके प्रयोग से डीडीओएस हमले (किसी वेबसाइट को एक साथ लाखों कंप्यूटरों द्वारा खोलने की कोशिश, जिससे उसका सर्वर बैठ जाता है), किसी डिवाइस पर दुर्भावनापूर्ण हमले, या दूर से डिवाइस पर किसी दूर्भावनापूर्ण कोड का एग्जिक्यूशन किया जा सकता है। इसका मतलब यह है कि इससे डिवाइस को गुलाम बनाकर उससे मनचाहा काम कराया जा सकता है।

  • Published Date: July 22, 2018 4:37 PM IST