comscore
News

होंडा ने 10 हजार महिलाओं को दिलाई सड़क सुरक्षा की शपथ

गुलेरिया ने बताया कि हर साल देश की सड़कों पर 1.8 करोड़ से अधिक नए दोपहिया वाहन चालक उतरते हैं। उनमें बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हैं।

  • Published: March 9, 2018 9:00 PM IST
2018-honda-accord-launch-2

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर गुरुवार को दोपहिया वाहन कंपनी होंडा मोटरसाइकिल एंड स्कूटर प्राइवेट लिमिटेड ने देश के 12 शहरों में ‘हेलमेटऑनलाइफऑन’ की एक नई पहल के जरिए 10,000 से अधिक महिलाओं को सड़क सुरक्षा की शपथ दिलाई। कंपनी के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट (सेल्स एंड मार्केटिंग) यदविंदर सिंह गुलेरिया ने इस मौके पर कहा, “आज की महिला अपने आप में एक प्रेरणा शक्ति है। दोपहिया वाहन चलाना हो या ट्रैक पर रेसिंग करना, वह किसी काम में पीछे नहीं है। उनकी भावना का स्वागत करते हुए, होंडा ने अपने हेलमेटऑनलाइफऑन अभियान को भारत की 10,000 से अधिक महिलाओं तक पहुंचाया है। हमें खुशी है कि हमें सभी शहरों से शानदार प्रतिक्रिया मिल रही है।”

उन्होंने बताया कि जालंधर, हैदराबाद, कटक और करनाल समेत देश के 12 शहरों में यह सड़क सुरक्षा के मद्देनजर यह अभियान चलाया गया। उन्होंने यह भी बताया कि एक लाख से अधिक महिलाएं होंडा के 13 ट्रैफिक पार्को में प्रशिक्षण प्राप्त कर चुकी हैं।

गुलेरिया ने बताया कि हर साल देश की सड़कों पर 1.8 करोड़ से अधिक नए दोपहिया वाहन चालक उतरते हैं। उनमें बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि सड़कों पर महिलाओं की यात्रा को अधिक सुरक्षित बनाने के लिए होंडा हेलमेट के महत्व पर जोर दे रही है और इसी सिलसिले में हेलमेटऑनलाइफऑन की शुरुआत की गई है। उन्होंने कहा, “आप चाहे वाहन चला रहे हैं, या उसकी पिछली सीट पर बैठ कर सवारी कर रहे हैं, हेलमेट सड़क पर आपकी सुरक्षा को सुनिश्चित करता है और आपको इसकी आदत डाल लेनी चाहिए।”

गुलेरिया ने बताया कि होंडा ने 17 लाख से ज्यादा दोपहिया वाहन चालकों को सड़क सुरक्षा के लिए प्रशिक्षित किया है।

  • Published Date: March 9, 2018 9:00 PM IST