comscore
News

हुवावे ने सैमसंग की 4जी तकनीक के खिलाफ पेटेंट उल्लंघन का मुकदमा जीता

पिछले दिनों हुवावे ने सैमसंग के खिलाफ एक पेटेंट उल्लंघन का मुकदमा दिया था।

  • Published: January 16, 2018 12:45 PM IST
huawei-logo

फोन निर्माता कंपनियों में पहले भी एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोपण किए जा चुके हैं। वहीं पिछले दिनों हुवावे ने भी सैमसंग पर पेटेंट उल्लंघन का आरोप लगाया था। जिसके बाद एक चीनी अदालत द्वारा जारी की गई सूचना के मुताबिक, हुवावे ने हाल ही में दक्षिण कोरियाई स्मार्टफोन प्रतिद्वंद्वी सैमसंग के खिलाफ इस पेटेंट उल्लंघन मुकदमे को जीता था।

न्यायालय के WeChat अकाउंट और मुकदमे के वीडियो के माध्यम से जारी एक नोटिस के अनुसार, चौथी पीढ़ी के फोन प्रौद्योगिकी से जुड़े दो पेटेंटों पर चीनी कंपनी के पक्ष में फैसला सुनाया गया। न्यायाधीश ने सैमसंग इलेक्ट्रॉनिक्स को तकनीक का उपयोग करके उत्पादों को बेचने या विनिर्माण को तुरंत बंद करने का आदेश दिया और एक छोटे से कोर्ट शुल्क का भुगतान करने को कहा। इस फैसले में विशिष्ट फोन मॉडल का उल्लेख नहीं किया गया है।

सामने आई जानकारी के अनुसार Shenzhen Intermediate कोर्ट का निर्णय एशियाई स्मार्टफोन निर्माताओं के बीच पेटेंट विवादों को मजबूत करने की एक श्रृंखला में नया है, जिन्होंने हाल के वर्षों में संयुक्त राज्य अमेरिका और चीन में एक दूसरे के खिलाफ मुकदमा दायर किया है। हुवावे टेक्नोलॉजीज लिमिटेड का मुख्यालय Shenzhen में है, जो कि हांगकांग से सीमा पार दक्षिणी चीन में है।

कंपनी चीन के स्मार्टफोन बाजार में प्रमुख खिलाड़ी है, हालांकि विश्व स्तर पर यह सैमसंग और एप्पल का ट्रैल अधिक है। अदालत ने कहा कि ‘सैमसंग को जुलाई 2011 में शुरू हुई “maliciously delayed negotiations” की खोज करने के बाद हुवावे के पक्ष में फैसला सुनाया गया था और यह स्पष्ट रूप से गलत था।’

सैमसंग ने एक बयान में कहा कि यह “अदालत के फैसले की अच्छी तरह से समीक्षा करेगा और उचित प्रतिक्रिया निर्धारित करेगा।” मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक, AT&T के माध्यम से फोन बेचने के लिए एक नियोजित सौदा हुआ था, जब हुवावे की कानूनी जीत अमेरिका में बिक्री बढ़ाने के प्रयासों में एक असफलता का सामना करने के कुछ दिनों बाद हुई।

  • Published Date: January 16, 2018 12:45 PM IST