comscore
News

4G डाउनलोड स्पीड में पाकिस्तान, श्रीलंका से भी पीछे है भारत

भारत में अभी भी बफरिंग की समस्या बनी हुई है।

airtel-india-4g-ads

भारत में भले ही टेलीकॉम कंपनियां बड़े-बड़े विज्ञापनों के जरिए 4G की बात कर रही हों, लेकिन बफरिंग की समस्या अभी भी बनी हुई है। देश में औसतन 4G LTE की डाटा स्पीड पिछले एक साल से 6.1Mbps बनी हुई है, जो ग्लोबल एवरेज (17 Mbps) के मुकाबले एक तिहाई है। ईटी की रिपोर्ट के मुताबिक इस मामले में भारत दुनिया के कई छोटे देशों से भी बहुत पीछे है।

भारत में कुछ बड़ी टेलीकॉम कंपनियां 4G के बाद अब 5G की तैयारियों में भी जुट गई हैं। इसके अलावा फाइबर बेस्ड होम ब्रॉडबैंड के जरिए जल्द ही 100 Mbps की शुरुआती स्पीड पर डाटा देने की बात कही जा रही है।

यूके की स्पीड टेस्टर ओपनसिग्नल के मुताबिक भारत 4G डाउनलोड स्पीड मामले में अपने पडोसी देशों श्रीलंका (13.95 Mbps), पाकिस्तान (13.56 Mbps) और म्यांमार (15.56 Mbps) से काफी पीछे है। इसके अलावा डेवलप्ड देशों में 4G डाउनलोड स्पीड अमेरिका में (16.31 Mbps), UK (23.11Mbps) और जापान में 25.39 Mbps में है।

अमेरिका की डाटा स्पीड टेस्टर Ookla ने ओवरऑल मोबाइल इंटरनेट स्पीड मामले में भारत को 124 देशों की लिस्ट में 109वें नंबर पर जगह दी है।भारत में औसतन डाउनलोड स्पीड 9.12 Mbps है, जो ग्लोबल एवरेज 23.54 Mbps के मुकाबले काफी कम है। Ookla ने यह रिपोर्ट 2G, 3G और 4G के आधार पर बनाई है।

  • Published Date: July 16, 2018 2:03 PM IST