comscore
News

सुशासन के लिए टेक्नोलॉजी के उपयोग पर भारत, यूएई के बीच करार

भारत और यूएई ने सुशासन के लिए डिजिटल प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के मकसद से एक एमओयू पर हस्ताक्षर किए हैं।

  • Published: July 29, 2018 9:07 PM IST
114425-suresh-prabhu

भारत और संयुक्त अरब अमीरात (यूएई) ने सुशासन के लिए डिजिटल प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल को बढ़ावा देने के मकसद से एक ज्ञापन समझौते (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। अधिकारियों ने यह जानकारी दी। उनके अनुसार, भारत के निवेश संवर्धन व सुगमता एजेंसी और यूएई के आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस (एआई) मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों ने एमओयू पर हस्ताक्षर किए।

वाणिज्य मंत्री सुरेश प्रभु ने एक कार्यक्रम में कहा, “भारत और यूएई सरकार शासन व्यवस्था के कार्यो में सुधार लाने में प्रौद्योगिकी के इस्तेमाल पर साथ-साथ कार्य कर रही हैं और सरकार की मदद करने में इसके सम्मिलित उपयोग की दिशा में काम चल रहा है।” प्रभु ने यूएई सरकार की गवहैक श्रंखला ‘हैकाथन’ प्रौद्योगिकी स्टार्टअप प्रतियोगिता का शुभारंभ किया। यह प्रतियोगिता दुनिया के आठ प्रमुख नगरों में आयोजित होगी।

यूएई के प्रधानमंत्री कार्यालय द्वारा शुरू की गई ‘गवहैक’ की पहल का मकसद दुनियाभर में युवाओं, विद्योर्थियों और सरकारी कर्मचारियों को बेहतर योजना बनाने और दुनिया की गंभीर चुनौतियों के लिए प्रौद्योगिकी संबंधी समाधान का प्रस्ताव देने के लिए प्रेरित करना है।

 

  • Published Date: July 29, 2018 9:07 PM IST