comscore
News

क्या आप भी खरीदना चाहते हैं बिटकॉइन तो यहां जाने इससे जुड़ी जानकारी

बिटकॉइन एक वर्चुअल करंसी है, जिसका इस्तेमाल लेन-देन और कम समय में ज्यादा पैसे बनाने के लिए किया जा रहा है।

  • Published: December 7, 2017 2:20 PM IST
bitcoin

जल्दी और ज्यादा पैसा कमाना किसे अच्छा नहीं लगता और इसी को आसान करने के लिए आज देश-विदेश में लोग बिटकॉइन खरीद रहे हैं। बिटकॉइन के बारे में आज सोशल मीडिया से लेकर न्यूज पेपर्स हर जगह पढ़ने को मिल जाएगा। लेकिन, क्या है यह बिटकॉइन और कैसे यह आपके पैसे को रातों-रात दो गुना से लेकर चौ गुना कर देती है। इसे लेकर आज भी कुछ लोगों में उलझन है।

बिटकॉइन दुनिया का पहला ओपन पेमेंट नेटवर्क है, जिसे लेकर आज खबरों का बाजार गर्म है। कुछ लोगों का मानना है कि वर्चुअल करंसी बिटकॉइन फाइनैंशियल ट्रांजैक्‍शन के लिए यह सबसे तेज और कुशल है। वहीं, दूसरे तबके का मानना है कि इससे हवाला और ब्लैक मनी को बढ़ावा मिल रहा है। इन सबके बीच एक बात है जिससे इनकार नहीं किया जा सकता और वह यह है कि आज लोग इस वर्चुअल करंसी की मदद से अपने पैसों को डबल कर रहे हैं। लेकिन, यहां एक बात जान लेना बहुत जरुरी है कि क्रिप्टो करेंसी को नियमित करने के लिए कोई दिशानिर्देश नहीं है, जिस कारण यह काफी जोखिमपूर्ण मुद्रा बनी हुई है। इतना ही नहीं फिलहाल बिटकॉइन वैध मुद्रा भी नहीं है।

आज अगर हम भारत की बात करें तो बिटकॉइन को खरीदने वालों की संख्या में दिन-प्रतिदन बढ़ौतरी हो रही है। बिटकॉइन को ऑनलाइन खरीदा जाता है और ऑनलाइन की इसे बेचा जाता है। बिटकॉइन को आप यूनिकॉर्न और कॉइनबेस जैसे ऑनलाइन प्लेटफॉर्म से कर सकते हैं। इसके लिए आपको इंटरनेट की जरुरत होगी। बिटकॉइन का प्रयोग लोग अपनी जरुरत के हिसाब से कर रहे हैं। कुछ लोग बिटकॉइन में निवेश कर रहे हैं तो कुछ इसका प्रयोग लेन-देन के लिए कर रहे हैं।

बिटकॉइन एक डिजिटल वॉलेट है, जिसमें आपके बिटकॉइन होते हैं। इसे खरीदना होता है जैसा कि आप रुपए, डॉलर और यूरो करेंसी को खरीदते हैं। उसी तरह बिटकॉइन को भी खरीदना पड़ता है। ऑनलाइन पेमेंट करने के साथ ही बिटकॉइन को पारंपरिक मुद्रा (रुपए, डॉलर और यूरो आदि) में भी बदला जा सकता है। एक बिटकॉइन की कीमत गुरुवार को हॉन्ग कॉन्ग में 14,000 डॉलर पहुंच गई थी।

कुछ दिन पहले ही बिटकॉइन को लेकर भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) ने जनता को इस मुद्रा के जोखिमों के प्रति चेताया था। केंद्रीय बैंक ने इस बारे में पूर्व में जारी चेतावनी का उल्लेख करते हुए कहा कि कई वीसी के मूल्यांकन में तेजी और इनिशियल कॉइन पेशकशों (आईसीओ) में तेज वृद्धि के मद्देनजर हम अपनी चिंता को फिर दोहराते हैं।

आज बिटकॉइन को लेकर किसी भी तरह की खबरें सामने आ रही हों, लेकिन इस बात को झुठलाया नहीं जा सकता कि बड़े-बड़े बिजनसमैन और कंपनियां इनका इस्तेमाल कर रही हैं। वहीं, भारत में दिन प्रतिदिन इसे लेकर लोगों में उत्साह बना हुआ है। आखिर में एक बात कहना चाहेंगे कि बिटकॉइन (क्रिप्टो करेंसी) को नियमित करने के लिए कोई दिशानिर्देश नहीं है, जिस कारण यह काफी जोखिमपूर्ण मुद्रा बनी हुई है। इतना ही नहीं फिलहाल बिटकॉइन वैध मुद्रा भी नहीं है।

  • Published Date: December 7, 2017 2:20 PM IST