comscore
News
> > > मैपमाईइंडिया ने एरिज से मिलाया हाथ, भारत को होगा ये फायदा

मैपमाईइंडिया ने एरिज से मिलाया हाथ, भारत को होगा ये फायदा

मैपमाईइंडिया ने इंटरनेट ऑफ थिंग्स सेवा प्रदाता एरिज से समझौता किया है। उम्मीद है कि साल 2020 तक ग्लोबल आईओटी बाजार 200 डॉलर बिलियन पार कर सकता है।

internet-of-things-stock-image

इंटरनेट ऑफ थिंग्स सेवा प्रदाता एरिज ने मैपमाईइंडिया से समझौता किया है जिसके बाद मैपमाईइंडिया भारत में भू-स्थानिक समाधान पेश करने में मदद करेगा। उम्मीद है कि साल 2020 तक ग्लोबल आईओटी बाजार 200 डॉलर बिलियन पार कर सकता है। वहीं भारत में 2016 में आईओटी बाजार में डॉलर 5.6 बिलियन के साथ 200 मिलियन डिवाइस कनेक्ट हो चुके हैं। वहीं उम्मीद है कि 2020 तक 15 डॉलर बिलियन के साथ 2.7 बिलियन तक बढ़ोत्तरी कर सकता है।

मैपमाईइंडिया के मैनेजिंग डायरेक्टर राकेश वर्मा का कहना है कि पूरी दुनिया ऑटोनोमस से ऑटोमेटिक ऑपरेशन की ओर बढ़ रही है। उन्होंने कहा कि भारतीय कारोबार विश्व स्तर पर प्रतिस्पर्धी में लाने के लिए ये समझौता काफी महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा। मुझे विश्वास है कि इस समझौते से सिर्फ भारतीय व्यवसायों और उद्यमों के लिए काफी अच्छा साबित होगा जिसके साथ पूरे देश को फायदा होगा।

ये भी देखें: 5,100एमएएच बैटरी के साथ लेनोवो P2 भारत में लॉन्च, 16,999 रुपए से कीमत शुरू, जानें स्पेसिफिकेशन और फीचर्स

दोनों कंपनियों ने संयुक्त रूप से कनेक्टिविटी के माध्यम से सर्वव्यापी ट्रैकिंग के रूप में व्यापार में मिल रही चुनौतियों का समाधान करने की पूरी कोशिश करेंगे। एरिज कम्यूनिकेशन के प्रेसिडेंट डॉक्टर रिशी भटनागर का कहना है कि मैपमाईइंडिया से किया गया हमरा टाईअप आईओटी के साथ कारोबार में मदद करना होगा। इसके साथ। ही व्यापार में लाभ, बहु-आयामी, नवाचार प्रेरित होगा। उन्होंने कहा कि हमें विश्वास है ऐसा करने से ओपेरा कार्यक्षेत्र का तरीका बदल जाएगा।

ये भी देखें: ये 5 स्मार्टफोन जनवरी में दे सकते हैं भारतीय बाजार में दस्तक

ये भी देखें: पोर्न देखने में ​चौथे नंबर पर है भारत, जानें कौन से देश हैं भारत से आगे