comscore
News

मर्सिडीज ने कहा, सरकार कर के मामले में मदद दे तो उत्पादन और रोजगार बढ़ाने को तैयार

मर्सिडीज अपने उत्पादन को बढ़ाने की कर रही है कोशिश।

  • Published: September 4, 2017 10:00 PM IST
Mercedes-Benz-S-Class-2018-1024-2d

जर्मनी की वाहन कंपनी मर्सिडीज बेंज ने लग्जरी कारों पर माल एवं सेवा कर :जीएसटी: बढ़ाने के प्रस्ताव पर चिंता जतायी है। कंपनी ने कहा कि अगर सरकार कर के मामले में थोड़ी राहत दे तो वह अपना उत्पादन और कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने को उत्सुक है। मर्सिडीज बेंज इंडिया के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यपालक अधिकारी रोलैन्ड फोल्गर ने यहां पीटीआई भाषा से कहा, ‘‘हमें यह समझ में नहीं आ रहा है कि वास्तव में फिर से उपकर की समीक्षा की क्यों जरूरत है। हमें काफी कुछ योगदान करना है। हम अच्छे वेतन वाली नौकरी सृजित करने में सक्षम और इच्छुक हैं।’’ इसे भी देखें:

हाल ही में केंद्रीय मंत्रिमंडल ने मध्यम और बड़े आकार की कारों पर उपकर बढ़ाने का रास्ता साफ करने के लिये जीएसटी मुआवजा कानून में संशोधन को लेकर अध्यादेश लाने को मंजूरी दे दी। प्रस्तावित अध्यादेश के तहत माल एवं सेवा कर (राज्यों को मुआवजा) कानून, 2017 में संशोधन किया जाएगा। इसके तहत अधिकतम मुआवजा उपकर 15 प्रतिशत से बढ़ाकर 25 प्रतिशत किया जा सकता है। इसे भी देखें: Nexus 6P को अगले हफ्ते मिल सकता है एंड्राइड 8.0 Oreo अपडेट

देश में लग्जरी कार बाजार के लिये उल्लेखनीय संभावना को रेखांकित करते हुए फोल्गर ने कहा, ‘‘हमें कर के मामले में कुछ समर्थन की जरूरत है और हम अपने उत्पादन के साथ कार्यबल में भी उल्लेखनीय इजाफा कर सकते हैं।’’ उन्होंने कहा कि कंपनी उपकर के प्रभाव को देखने का इंतजार कर रही है। साथ ही इस बात का भी इंतजार है कि उपकर कितनी ऊंचा तक जा सकता है। इसे भी देखें: इंस्टाग्राम पर सुरक्षित नहीं है आपका निजी डाटा

वह यहां एएमजी परफार्मेन्स सेंटर के उद्घाटन के मौके पर यहां आये हुए थे। फोल्गर ने कहा कि कंपनी न केवल अपने पुणे कारखाने में रोजगार के अवसर बढ़ाने को लेकर गंभीर है बल्कि डीलरशिप स्तर पर भी नौकरी बढ़ाने को लेकर गंभीर है। उन्होंने कहा, ‘‘हम भारत में नई प्रौद्योगिकी भी लाने में सक्षम हैं। हमने यह साफ कर दिया है कि हम यह करने को उत्सुक हैं।’’ इसे भी देखें: Xiaomi Mi A1 GeekBench पर आया नजर, जानें कैसे हैं इसके स्पेसिफिकेशन्स

  • Published Date: September 4, 2017 10:00 PM IST