comscore
CO-SPONSORED BY IN ASSOCIATION WITH
News
> > > माइक्रोसॉफ्ट ने ढूंढा गूगल क्रोम में सुरक्षा चूक

माइक्रोसॉफ्ट ने ढूंढा गूगल क्रोम में सुरक्षा चूक

माइक्रोसॉफ्ट ने गूगल क्रोम में एक रिमोट सुरक्षा चूक की पहचान की है।

microsoft logo

माइक्रोसॉफ्ट विंडोज सुरक्षा दल ने गूगल क्रोम में एक रिमोट सुरक्षा चूक की पहचान की है, जिसका इस्तेमाल हैकर्स द्वारा किया जा सकता है।

माइक्रोसॉफ्ट के आक्रामक सुरक्षा अनुसंधान दल के सदस्य जॉर्डन रबेट ने गुरुवार देर रात एक ब्लॉग पोस्ट में कहा, “हमारे द्वारा खोजे गए ‘सीवीई-2017-5121′ से पता चलता है कि आधुनिक ब्राउसरों में भी दूर से हैक किए जाने लायक सुरक्षा खामियां (सेंधमारी के रास्ते) व्याप्त है। क्रोम में भी ऐसे ही बग का पता चला है।” एनगैजेट की शुक्रवार को प्रकाशित रिपोर्ट के मुताबिक गूगल ने तुरंत गिटहब पर इसे सुधारने का तरीका साझा किया। इसे भी देखें: Nokia 7 स्नैपड्रैगन 630 चिपसेट के साथ हुआ लॉन्च, जानें कीमत, स्पेसिफिकेशन और फीचर्स

रिपोर्ट में कहा गया, “माइक्रोसॉफ्ट के मुताबिक, गूगल द्वारा सुझाया तरीका लागू करने के बावजूद यह सुरक्षा चूक पूरी तरह से ठीक नहीं हुआ है। माइक्रोसॉफ्ट का मानना है कि इसे लोगों की जानकारी में आने से पहले ही ठीक कर देना चाहिए था।” इसे भी देखें: दिवाली पर गिफ्ट में दें फिंगरप्रिंट सेंसर के साथ 10,000 रुपए की कीमत में आने वाले ये स्मार्टफोन

माइक्रोसॉफ्ट और गूगल के बीच एक दूसरे के उत्पादों के सुरक्षा चूक को सामने लाने की घटना नई नहीं है। पिछले साल गूगल ने माइक्रोसॉफ्ट के विंडोज में इसी प्रकार की एक बड़ी चूक का खुलासा किया था, जिसका समाधान कंपनी करने ही वाली थी। इसे भी देखें: फिंगरप्रिंट से नहीं इस नई टेक्नोलॉजी से अनलॉक होते हैं ये स्मार्टफोन