comscore
News

टेलीसॉनिक नेटवर्क के अलग होने के मुद्दे पर एनसीएलटी पहुंचा एयरटेल

एनसीएलटी के अध्यक्ष एम. एम. कुमार की अध्यक्षता वाली दो सदस्यीय पीठ ने इस मामले में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है।

  • Published: March 22, 2018 1:56 PM IST
airtel-4g-services

दूरसंचार सेवाप्रदाता भारती एयरटेल और उसके पूर्ण स्वामित्व वाली अनुषंगी कंपनी टेलीसॉनिक नेटवर्क नेअपनी अलग होने की योजना को लेकर राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण( एनसीएलटी) का रुख किया है।

उल्लेखनीय है कि इस अलगाव के बाद टेलीसॉनिक एक स्वतंत्र फाइबर केबल कंपनी की तरह कारोबार करेगी। दोनों कंपनियों ने अपनापहला प्रस्ताव न्यायाधिकरण के सामने पेश कर इसके लिए अनुमति की मांगी थी, ताकि वह अपने हितधारकों, शेयरधारकों और ऋणे देने वालों की बैठक बुलाकर अनुमति ले सके।

एनसीएलटी के अध्यक्ष एम. एम. कुमार की अध्यक्षता वाली दो सदस्यीय पीठ ने इस मामले में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया है। भारतीय एयरटेल ने एक नवंबर 2017 को कहा था कि वह वह अपना आप्टिकल फाइबर व्यावसाय 5,650 करोड़ रुपये के मूल्य पर टेलिसोनिक नेटवर्क्स को हस्तांतरित कर देगी।

  • Published Date: March 22, 2018 1:56 PM IST