comscore
News

भारतीयों की ऑनलाइन सुरक्षा चिंता बढ़ी : मैकेफी

पहचान की चोरी और धोखाधड़ी के बढ़ते खतरों को देखते हुए 50 फीसदी उपभोक्ताओं ने पहचान चोरी सुरक्षा के लिए कदम उठाएं हैं, जबकि 42 फीसदी इसकी योजना बना रहे हैं।

  • Published: March 28, 2018 10:47 AM IST
cyber-attack-virus

आज के कनेक्टेड दुनिया में डिजिटल क्षेत्र में ज्यादा से ज्यादा निजी जानकारी डाली जा रही है, ऐसे में करीब हर चार में से तीन भारतीयों (79 फीसदी) का कहना है कि उन्हें पांच साल पहले की तुलना में अब ऑनलाइन सुरक्षा को लेकर अधिक चिंता होती है। वैश्विक सुरक्षा फर्म मैकेफी के अध्ययन ‘तेजी से जुड़ती दुनिया की नई सुरक्षा प्राथमिकताएं’ से एक असमानता का पता चलता है कि भारतीय अपने कनेक्टेड डिवाइसों (25 फीसदी) की सुरक्षा की चिंता उतनी नहीं करते, जितनी वे अपनी पहचान (45 फीसदी) और निजता (39 फीसदी) की चिंता करते हैं।

मैकेफी के उपाध्यक्ष (इंजीनियरिंग) और प्रबंध निदेशक वेंकट कृष्णापुर ने एक बयान में कहा, “भले ही ग्राहक अपनी सुरक्षा और गोपनीयता के बारे में चिंतित हैं, लेकिन हमने उनकी चिंता और कार्रवाई के बीच असमानता को देखा है।”

पहचान की चोरी और धोखाधड़ी के बढ़ते खतरों को देखते हुए 50 फीसदी उपभोक्ताओं ने पहचान चोरी सुरक्षा के लिए कदम उठाएं हैं, जबकि 42 फीसदी इसकी योजना बना रहे हैं।

कृष्णापुर का कहना है, “मात्रा, गति और जटिलता से प्रेरित तेजी से बदलती दुनिया में उपभोक्ताओं को अपनी पहचान और डेटा के सुरक्षा के लिए एक सक्रिय दृष्टिकोण अपनाना चाहिए।” बात जब कनेक्टेड होम डिवाइसों को खरीदने की आती है तो 39 फीसदी भारतीय सुरक्षा को सबसे महत्वपूर्ण कारक मानते हैं।

  • Published Date: March 28, 2018 10:47 AM IST