comscore
News

स्टीफन हॉकिंग का 76 साल की उम्र में हुआ निधन, ट्विटर पर लोगों ने दी श्रद्धांजलि

“ज्ञान का सबसे बड़ा दुश्मन अज्ञान नहीं है, अपितु ज्ञान होने का भ्रम है। ” RIP स्टीफन हॉकिंग।

  • Published: March 14, 2018 10:41 AM IST
stephen-hawking-passes-away

ब्रिटिश भौतिक विज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग ने आज सुबह कैंब्रिज में उनके घर 76 वर्ष की आयु में अपने अंतिम सांस ली। परिवार के प्रवक्ता ने हॉकिंग के निधन की पुष्टि की। उनके बच्चों, लुसी, रॉबर्ट, और टिम ने एक बयान में कहा कि उनके घर में उनकी मृत्यु हुई है।

Sky News की रिपोर्ट के अनुसार “हम बहुत दुखी हैं कि हमारे प्यारे पिता की आज मृत्यु हो गई। वह एक महान वैज्ञानिक और असाधारण व्यक्ति थे, जिनके काम और विरासत कई वर्षों तक जीवित रहेगी। उनकी भव्यता और दृढ़ता से उनकी प्रतिभा और हास्य दुनिया भर में प्रेरित लोगों के साथ।”

वैज्ञानिक स्टीफन हॉकिंग का जन्म 8 जनवरी 1942 को हुआ था। उनके माता-पिता फ्रेंक और इसाबेल हॉकिंग थे। स्टीफन हॉकिंग ने हाल ही में बिगबैंग के पहले के संसार के बारे में कुछ ऐसा बताया है, जिसे जानकर पूरी दुनिया में हलचल मच गई थी।

जैसा गही हॉकिंग के निधन की खबर न्यूज में आई तो सोशल मीडिया पर लोगों ने वै स्टीफन हॉकिंग की लिए श्रद्धांजलि भरे पोस्ट करने शुरु कर दिए। आइए आपको दिखाते हैं ट्विटर पर लोगों ने कैसै याद किया हॉकिंग को।

वर्ष 1963 में हॉकिंग को एक दुर्लभ मोटर न्यूरॉन रोग का अनुबंध किया और उसे जीने के लिए दो साल का समय दिया गया। अपनी विकलांगता के बावजूद वह एक कुर्सी के लिए बाध्य थे और एक कंप्यूटर के माध्यम से बात करते थे। उन्होंने कैंब्रिज में पढ़ाई की और अल्बर्ट आइंस्टीन के बाद से सबसे शानदार सैद्धांतिक भौतिकविदों में से एक बन गया। उन्हें 1982 में एक दर्जन से अधिक मानद डिग्री और सीबीई से सम्मानित किया गया। वह अपने सिद्धांत के लिए सबसे अच्छी तरह से ज्ञात था कि ब्लैक होल रेडियंस का उत्सर्जन करता है, जिसे विशेष उपकरण द्वारा पता लगाया जा सकता है।

  • Published Date: March 14, 2018 10:41 AM IST