comscore
News

नमो एप को लेकर राहुल गांधी ने दिया बड़ा बयान

राहुल ने प्रधानमंत्री पर अपने नमो एप के जरिए ऑडियो, वीडियो रिकॉर्ड करने व जीपीएस के जरिए उपभोक्ताओं की स्थिति का पता लगाने का आरोप लगाया।

  • Published: March 27, 2018 2:20 PM IST
narendra-modi-app

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर पद का दुरुपयोग कर ‘सरकार द्वारा प्रचारित नमो एप के जरिए लाखों भारतीयों के डेटा’ से निजी डेटाबेस तैयार करने का आरोप लगाया और उन्हें बिग बॉस करार देते हुए कहा कि ‘बिग बॉस को जासूसी करना पसंद है।’

उन्होंने साथ ही प्रधानमंत्री पर अपने नमो एप के जरिए ऑडियो, वीडियो रिकॉर्ड करने व जीपीएस के जरिए उपभोक्ताओं की स्थिति का पता लगाने का आरोप लगाया।

राहुल ने कहा कि अगर प्रधानमंत्री को लोगों से संवाद स्थापित करने के लिए प्रोद्यौगिकी का इस्तेमाल करना है तो उन्हें आधिकारिक पीएमओ एप का इस्तेमाल करना चाहिए।

राहुल ने ट्वीट कर कहा, “मोदी प्रधानमंत्री पद का इस्तेमाल कर सरकार द्वारा प्रचारित नमो एप के जरिए लाखों भारतीयों के डेटा से निजी डेटाबेस तैयार कर रहे हैं। अगर प्रधानमंत्री के तौर पर वह लोगों से संवाद स्थापित करने के लिए प्रोद्यौगिकी का इस्तेमाल करना चाहते हैं, तो उन्हें अधिकारिक पीएमओ एप का प्रयोग करना चाहिए। यह डेटा भारत का है, न कि मोदी का। ”

उन्होंने कहा, “मोदी का नमो एप गोपनीय तरीके से आपके ऑडियो, वीडियो, आपके दोस्तों व परिवारों के संपर्क को रिकॉर्ड करता है और यहां तक कि जीपीएस (ग्लोबल पोजिशनिंग सिस्टम) के जरिए आपके स्थान का भी पता किया जाता है। वह बिग बॉस हैं, जिन्हें भारतीयों की जासूसी करना पसंद है। वह अब हमारे बच्चों के भी डेटा चाहते हैं। 13 लाख एनसीसी (राष्ट्रीय कैडेट कोर) को यह एप डाउनलोड करने के लिए बाध्य किया जा रहा है।”

कांग्रेस प्रमुख की यह टिप्पणी इससे पहले भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) द्वारा सोमवार को उन पर (राहुल गांधी) उपभोक्ताओं का डेटा सिंगापुर स्थित कंपनी के साथ साझा करने का आरोप लगाए जाने के बाद आई है।

इससे पहले भाजपा ने कांग्रेस पर 2019 के चुनाव अभियान के लिए राजनीतिक डेटा विश्लेषक कंपनी कैंब्रिज एनालिटिका की मदद लेकर राष्ट्रीय सुरक्षा से समझौता करने का आरोप लगाया था।

  • Published Date: March 27, 2018 2:20 PM IST