comscore
News

मोबाइल विनिर्माण में वृद्धि को इलेक्ट्रॉनिक्स में दोहराए: कनन्नथानम

केंद्रीय मंत्री अल्फोंस कनन्नथानम ने आईटी व इलेक्ट्रोनिक्स उद्योग से आह्वान किया कि वे घरेलू मोबाइल विनिर्माण उद्योग में ‘नाटकीय वृद्धि’ को उपभोक्ता इलेक्ट्रोनिक्स क्षेत्र में भी दोहराएं।

  • Published: October 14, 2017 3:00 PM IST
smartphones

केंद्रीय मंत्री अल्फोंस कनन्नथानम ने आईटी व इलेक्ट्रोनिक्स उद्योग से आह्वान किया कि वे घरेलू मोबाइल विनिर्माण उद्योग में ‘नाटकीय वृद्धि’ को उपभोक्ता इलेक्ट्रोनिक्स क्षेत्र में भी दोहराएं। इलेक्ट्रोनिक्स व आईटी राज्यमंत्री ने कहा कि डिजिटल इंडिया कार्यक्रम के तहत सरकार ने इलेक्ट्रोनिक्स विनिर्माण को बढ़ावा देने के लिए अनेक कदम उठाए हैं ताकि देश को इलेक्ट्रोनिक्स सामान के लिए उत्पादन केंद्र (हब) के रूप में स्थापित किया जा सके।

केंद्रीय मंत्री यहां उद्योग मंडल एसोचैम के कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने कहा कि मोबाइल विनिर्माण में कारोबार में ‘नाटकीय सुधार’ देखने को मिला है हालांकि उपभोक्ता इलेक्ट्रोनिक्स में उत्पादन इतनी तेजी से नहीं बढ़ा है। उन्होंने कहा-यह ऐसा क्षेत्र है जिसमें उद्योग जगत को काम करना होगा … मुझे लगता है कि यह ऐसा क्षेत्र है जिसमें हमें विस्तृत विचार विमर्श करने की जरूरत है। इसे भी देखें: Geekbench पर नजर आया Meizu M5X, स्नैपड्रैगन 617 पर हो सकता है आधारित?

औद्योगिक अनुमानों के हवाले से मंत्री ने कहा कि डिजिटल समाज की सूचना सुरक्षा जरूरतों के चलते अगले तीन साल में 5,00,000 साइबर सुरक्षा विशेषज्ञों की जरूरत होगी। इसके साथ ही उन्होंने उद्योग से कहा कि वह साइबर सुरक्षा में सेंध से जुड़ी किसी भी जानकारी को साझा करें क्योंकि सूचनाओं की पूलिंग से इस तरह की घटनाओं से बेहतर ढंग से निपटा जा सकेगा। इसे भी देखें: फ्लिपकार्ट पर Honor 9i आज रात 00:00 Hrs पर सेल के लिए होगा उपलब्ध

उन्होंने आनलाइन लेनदेन में सुरक्षा को बड़ा मुद्दा करार दिया तथा हेल्थकेयर क्षेत्र में डिजिटलीकरण की गति पर निराशा व्यक्त की। इलेक्ट्रोनिक्स व आईटी मंत्रालय में अतिरिक्त सचिव अजय कुमार ने कहा कि सरकार एक नयी नीति पर काम कर रही है जिससे इलेक्ट्रोनिक्स विनिर्माण को बल मिलेगा। इसे भी देखें: OnePlus 5T स्मार्टफोन एक नए लीक में कुछ इस तरह के डिजाईन में आया सामने

  • Published Date: October 14, 2017 3:00 PM IST