comscore
News

साल के अंत तक SpaceX और Boeing स्लेट मैनड स्पेस मिशन पर

NASA ने पिछले हफ्ते ऐलान कर बताया है कि उन्हें उम्मीद है कि, SpaceX को साल के अंत तक क्रयू टेस्ट फ्लाइट संचालित भी किया जाएगा।

  • Published: January 15, 2018 2:40 PM IST
NASA-Pixabay

SpaceX ने शनिवार दोपहर को सफलतापूर्वक एक ड्रैगन कैप्सूल को रिकवर किया, जो कार्गो डिलिवरी से अंतर्राष्ट्रीय अंतरिक्ष स्टेशन में लौट आया था। ड्रैगन को अब तक ज्यादातर कार्गो रन के लिए इस्तेमाल किया गया है। साथ ही इसको क्रयू को भी कैरी करने के लिए डिजाइन किया गया था। वहीं, NASA ने पिछले हफ्ते ऐलान कर बताया है कि उन्हें उम्मी है कि, SpaceX को साल के अंत तक क्रयू टेस्ट फ्लाइट संचालित भी किया जाएगा।

अगस्त में uncrewed फ्लाइट के बाद SpaceX के क्रयू का टेस्ट दिसंबर के लिए किया गया है। Boeing अपने CST-100 Starliner कैप्सूल का प्रदर्शन भी करेगा, जिसमें अगस्त में uncrewed फ्लाइट के बाद नवंबर में क्रयू फ्लाइट होगा।

NASA का लक्ष्य US soil से ISS के लिए क्रयू को लॉन्च करना है। यह एक ऐसा प्रोग्राम है जो 2011 में US स्पेस शटल कार्यक्रम सेवानिवृत्ति के बाद से रूस के अंतरिक्ष कार्यक्रम में गिर गया है। NASA ने साल 2010 से निजी लॉन्च कंपनियों की तलाश शुरू कर ली है। वहीं, साल 2014 में दोनों SpaceX और Boeing के साथ क्रयू लॉन्च के लिए contracted किया गया। Ars Technica के डिटेल सर्वे के मुताबिक, कांग्रेस ने अगले सालों में फंड रीडायरेक्ट करने के लिए, अमेरिका की क्रयू स्पेसफ्लाइट क्षमता को बहाल करने के लिए कुछ हिस्से में देरी की है।

टेस्ट फ्लाइट निर्धारित कर सकती हैं कि Boeing या SpaceX पहले US वाणिज्यिक अंतरिक्ष लॉन्च ISS को पेश करता है या नहीं। वहीं, जिस भी कंपनी इसे प्राप्त करता है, वह अंतरिक्ष स्टेशन पर एक हैच करने के लिए US flag के लिए दावा कर सकते हैं। Ars से बातचीत करने वाले सूत्रों ने दोनों कंपनियों के बीच की दौड़ के बारे में बताया है। वहीं, माना जा रहा है कि 2019 की शुरुआत में यह पूरी तरह संभव हो सकता है। जबकि, NASA ने फ्लाइट के लिए astronauts का नाम लेना शुरू कर दिया है।

NASA के टाइमलाइन घोषणा के बाद SpaceX ने विफलता का अनुभव किया। एक सफल प्रक्षेपण के बावजूद secretive Zuma मिशन deployment स्टेज पर विफल रहा। हालांकि, अभी तक असफलता के कारण का पता नहीं है।

  • Published Date: January 15, 2018 2:40 PM IST