comscore
News

फ्लाइट में जल्द कर पाएंगे मोबाइल का इस्तेमाल

फ्लाइट के दौरान कॉल, मैसेज भेजने और इंटरनेट का इस्तेमाल कर पाएंगे यात्री।

  • Published: May 2, 2018 12:02 PM IST
Smartphones launched in India in March 2018-gallery

अब आप जल्द ही फ्लाइट में मोबाइल का इस्तेमाल कर पाएंगे। फ्लाइट से उड़ान भरते हुए जल्द ही कॉल करना, मैसेज भेजना और इंटरनेट चलाना संभव होने वाला है, क्योंकि टेलीकॉम कम्युनिकेशन ने मंगलवार को इन-फ्लाइट कनेक्टिविटी को मंजूरी दे दी है। इसमें वॉयस, डाटा कॉल और डाटा सर्फिंग शामिल है। फोन कॉल्स की इजाजत तभी होगी, जब कोई एयरक्राफ्ट 3,000 मीटर की ऊंचाई पर पहुंच जाएगा।

टेलीकॉम सेक्रेटरी अरुणा सुंदराजन ने यह जानकारी दी। उन्होंने कहा, “टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) की लगभग सभी सिफारिशों को स्वीकार कर लिया गया है। हम प्रक्रिया में तेजी ला रहे हैं और तीन महीने के भीतर यह तैयार हो जाएगा। उसके बाद तुरंत इस फैसले को लागू कर दिया जाएगा।”

सुंदरराजन ने कहा, “हमें एक अलग कैटेगरी का लाइसेंस बनाना है, जिसे इन-फ्लाइट कनेक्टिविटी प्रोवाइडर कहा जाता है। यह पानी के जहाजों के लिए भी लागू होगा। इसका एक रुपये टोकन लाइसेंस शुल्क होगा। यह धरती से 3,000 मीटर से ऊपर लागू होगा।”

उन्होंने यह भी कहा कि मामले को मंजूरी के लिए मंत्रिमंडल में ले जाने की जरूरत नहीं है। अन्य महत्वपूर्ण निर्णयों के अलावा, समिति ने इंटरनेट टेलीफोनी के फैसले को भी मंजूरी दी। दूरसंचार सचिव ने कहा, “यह तुरंत लागू हो जाएगा। हम उम्मीद करते हैं कि डेटा नेटवर्क के माध्यम से वॉयस टेलीफोनी उपलब्ध कराया जाएगा।”

टेलीकॉम कमीशन ने कारोबार करने में आसानी के लिए ट्राई की 12 प्रमुख सिफारिशों को भी मंजूरी दी। उन्होंने कहा कि पब्लिक वाई-फाई नेटवर्क के माध्यम से ब्रॉडबैंड का प्रसार भी स्वीकार कर लिया गया है।

  • Published Date: May 2, 2018 12:02 PM IST