comscore
News

टेस्ला ने 3,600 कर्मचारियों को दिखाया बाहर का रास्ता

कंपनी ने अपने 40 हजार कर्मचारियों में से 3,600 कर्मचारियों की छंटनी कर दी है।

elon-musk-tesla-getty

इलेक्ट्रिक कार बनाने वाली कंपनी टेस्ला ने अपने हजारों कर्मचारियों की छंटनी की है। टेस्ला ने 3,600 कर्मचारियों को निकाल दिया है। कंपनी ने यह कदम इस साल के सेंकेंड हाफ में लाभ कमाने और लागत कम करने के लिए किया है। कंपनी के सीईओ एलन मस्क ने कर्चारियों को इसे लेकर एक मेल किया है।

मस्क ने कर्मचारियों को यह मेल मंगलवार को किया था। इसमें कहा गया था कि कंपनी के वर्कफोर्स यानी कुल कर्मचारियों में से 9 फीसदी की छंटनी कर रही है। कंपनी अपने  40 हजार कर्मचारियों में से 3,600 कर्मचारियों की छंटनी कर रही है। यह कदम लाभ कमाने के लिए उठाया जा रहा है। हालांकि, टेस्ला ने यह नहीं बताया है कि कर्मचारियों की छंटनी से वह कितने पैसे बचा लेगी।

दरअसल, अपने 15 साल के बिजनेस में टेस्ला ने अभी तक कोई प्रॉफिट नहीं कमाया है। ऐसे में कंपनी अब प्रॉफिट के लिए कॉस्ट कटिंग कर रही है।  हालांकि, यह पहली बार नहीं है जब टेस्ला ने कर्मचारियों की छंटनी की है। साल 2008 में भी इसी तरह से कर्मचारियों की छंटनी की गई थी।

बता दें कि एलन मस्क टेक इंडस्ट्री के लीजेंड हैं। वो अमेरिकी बिजनेसमैन हैं। वो 1971 में साउथ अफ्रीका में पैदा हुए। मस्क की कई कंपनियां हैं, जो अलग-अलग क्षेत्रों में काम कर रही हैं। उन्हें इलेक्ट्रिक कार टेस्ला के लिए जाना जाता है। वो 2008 में टेस्ला के सीईओ बने और 2002 में उन्होंने स्पेसएक्स की स्थापना की। इसका मकसद स्पेस पर जाने वाले रॉकेट और अंतरिक्ष यानों की लागत को कम करना है। इसका हेडक्वॉर्टर कैलिफॉर्निया में है।

  • Published Date: June 13, 2018 12:52 PM IST
  • Updated Date: June 13, 2018 1:05 PM IST