comscore
News

फीचर फोनों में जीपीएस सुविधा की कमी से अटका पेनिक बटन का मामला

फीचर फोनों में जीपीएस सुविधा के अभाव के चलते उत्तर प्रदेश में मोबाइल फोनों में ‘पेनिक बटन’ सुविधा का परीक्षण टल गया है।

  • Published: February 4, 2018 9:00 PM IST
smartphones-stock-image

फीचर फोनों में जीपीएस सुविधा के अभाव के चलते उत्तर प्रदेश में मोबाइल फोनों में ‘पेनिक बटन’ सुविधा का परीक्षण टल गया है। सूत्रों ने बताया कि उत्तर प्रदेश में यह परीक्षण 26 जनवरी से होना था। यह परीक्षण स्मार्ट फोन व फीचर फोन, सभी तरह के फोन के लिए होना था। इसी परीक्षण के आधार पर देश भर में मोबाइल फोनों में ‘पेनिक बटन’ इस साल दिसंबर तक शुरू होना था।

‘पेनिक बटन’ सुविधा के तहत हर मोबाइल फोन में एक ऐसे बटन का प्रावधान किया जाना है जिसका इस्तेमाल विशेष रूप से महिलाएं किसी भी आपात या संकट की स्थिति में कर सकती हैं। सरकार ने 2016 में सभी मोबाइल ​फोन विनिर्माताओं से कहा था कि वह मोबाइल फोनों में पेनिक बटन व जीपीएस सुविधा उपलब्ध करवाएं। पिछले साल नंवबर में फीचर फोन को जीपीएस सुविधा देने से छूट दे दी गई।

महिला व बाल विकास मंत्रालय के एक अधिकारी के अनुसार, ‘दूरसंचार विभाग का कहना है कि फीचर फोन में जीपीएस लोकेशन की सुविधा देना तकनीकी चुनौती है।’

अन्य अधिकारी के अनुसार चूंकि उत्तर प्रदेश में फीचर फोन उपयोक्ताओं की संख्या बहुत अधिक है इसलिए उन्हें इसके दायरे में लाये बिना परीक्षण नहीं किया जा सकता। जीपीएस की अनुपस्थिति से परीक्षण कार्यक्रम पर प्रतिकूल असर के बारे में किसी अधिकारी ने टिप्पणी नहीं की।

  • Published Date: February 4, 2018 9:00 PM IST