comscore
News

नेट निरपेक्षता पर महीने भर में सिफारिशें दे सकता है ट्राई

ट्राई नेट निरपेक्षता के विवादास्पद मुद्दे पर अपनी सिफारिशें महीने भरे में दे सकता है।

  • Published: August 31, 2017 7:00 AM IST
TRAI

दूरसंचार नियामक ट्राई नेट निरपेक्षता के विवादास्पद मुद्दे पर अपनी सिफारिशें महीने भरे में दे सकता है। भारतीय दूरसंचार नियामक प्राधिकार ट्राई के चेयरमैन आर एस शर्मा ने इस मुद्दे पर यहां एक खुली चर्चा के दौरान संवाददाताओं से कहा, ‘इस (नेट निरपक्षेता के) मुद्दे पर बहस में सभी भागीदार सक्रियता से भाग ले रहे हैं। मुझे लगता है कि ट्राई सरकार को उचित राय दे पाएगा जिसके लिए उसे कहा गया है।’

सिफारिशों के लिए सयम सीमा के बारे में पूछे जाने पर शर्मा ने कहा, ‘इसमें एक महीने से अधिक समय नहीं लगना चाहिए।’ उल्लेखनीय है कि नेट निरपेक्षता को लेकर दूरसंचार कंपनियां व इंटरनेट सामग्री प्रदाताओं में खींचतान है। दूरसंचार कंपनियां कंटेंट प्रदाताओं के साथ लागत भागीदारी की मांग कर रही हैं तो इंटरनेट कंपनियों का जोर सस्ती इंटरनेट सेवाओं पर है।

सरकार का कहना है कि नेट निरपेक्षता की रूपरेखा के बारे में उसका कोई भी फैसला ट्राई की सिफारिशों के बाद ही होगा। भारत में नेट निरपेक्षता के मुद्दे पर बहस दिसंबर 2014 में शुरू हुई जबकि एयरटेल ने इंटरनेट आधारित कालों में लगने वाले डेटा के लिए अलग से प्लान की घोषणा की। तब से ही इस मुद्दे पर खासी बहस चल रही है। इसे भी देखें: लॉन्च से पहले लीक हुई सैमसंग Galaxy J7+ स्मार्टफोन की कीमत और उपलब्धता

हाल ही में भारतीय दूरसंचार नियामक एवं प्राधिकरण (ट्राई) एप और उत्पादों के जरिये आंकड़ों के विश्लेषण और उसके उपयोग की भी अनुमति देने पर विचार कर रहा है जिससे ग्राहक बीमा या एयरलाइन एप की तरह दरों के बारे में एक जगह जानकारी प्राप्त कर सके। इसे भी देखें: Insta360 One 4के 360 कैमरा लॉन्च

नियामक ने हाल ही में सभी परिचालकों से इलेक्ट्रानिक के साथ-साथ भौतिक रूप से अपने शुल्क की जानकारी देने को कहा है। इसका मकसद भौतिक रूप से फाइल किये जाने की व्यवस्था को चरणबद्ध तरीके से समाप्त करना है। इसे भी देखें: Mi Mix 2 स्मार्टफोन 11 सितंबर को हो सकता है लॉन्च

  • Published Date: August 31, 2017 7:00 AM IST