comscore
News

गूगल के हुवावे और शाओमी के साथ सौदे पर अमेरिका की नजर

इसके साथ साथ गूगल की टेनसेंट से भी साझेदारी है। टेनसेंट भी एक चीनी प्रौद्योगिकी प्लेटफार्म है।

  • Updated: June 9, 2018 9:29 AM IST
google-chrome-logo

चीन की कुछ दिग्गज कंपनियों समेत 60 डिवाइस निर्माता कंपनियों के साथ फेसबुक द्वारा डाटा साझा करने की खबर के सामने आने के बाद अमेरिका में चिंता पाई जा रही है और इसी बीच अमेरिकी कांग्रेस के सदस्यों ने गूगल की मूल कंपनी अल्फाबेट की हुआवेई और शाओमी के साथ सौदे को लेकर चिंता जाहिर की है। अल्फाबेट के सीईओ लैरी पेज को लिखे एक खुले पत्र में सीनेटर मार्क वार्नर ने चीनी मूल उपकरण निमार्ता (ओईएम) के साथ सोशल मीडिया द्वारा डेटा साझा करने के अभ्यास के संकेतों के बारे में बात की है। उन्होंने कहा, “अल्फाबेट की सहायक कंपनियों और इन चीनी कंपनियों के बीच समझौते शायद अधिक व्यापक हो सकते हैं।”

वर्जीनिया के डेमोक्रेट सीनेटर ने चिन्हित किया कि गूगल की हुवावे और शाओमी समेत चीनी मोबाइल उपकरण निर्माताओं के साथ विभिन्न रणनीतिक साझेदारियां हैं। इसके साथ साथ गूगल की टेनसेंट से भी साझेदारी है। टेनसेंट भी एक चीनी प्रौद्योगिकी प्लेटफार्म है।

सीएनईटी की गुरुवार की रिपोर्ट के मुताबिक, वार्नर ने कहा कि यह संभावना कि टेनलेंट ने गूगल से डेटा हासिल किया है, ‘राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए चिंता की वजह है।’

वार्नर ने कहा, “अल्फाबेट के सीईओ को इन कंपनियों के साथ गूगल के सौदे को लेकर अधिक जानकारी का खुलासा करना चाहिए।” माना जा रहा है कि गूगल की तरफ से वार्नर द्वारा उठाई गई चिंताओं पर स्पष्टीकरण दिया जाएगा।

  • Published Date: June 9, 2018 9:00 AM IST
  • Updated Date: June 9, 2018 9:29 AM IST