comscore
News

फ्लिपकार्ट को अमेरिका की इस बड़ी कंपनी ने खरीदा

16 अरब डॉलर में हासिल की 77 प्रतिशत हिस्सेदारी।

  • Updated: May 10, 2018 8:40 AM IST
flipkart-stock-image

देश की सबसे बड़ी ई-कॉमर्स कंपनी फ्लिपकार्ट में अमेरिकी रिटेल कंपनी वालमार्ट ने 77% हिस्सेदारी खरीद ली है। इस हिस्सेदारी के लिए वालमार्ट ने 16 अरब डॉलर (लगभग एक लाख पांच हजार 360 करोड़ रुपये) की रकम चुकाई है। वालमार्ट ने इस डील की पुष्टि की है। कंपनी का यह अब तक सबसे बड़ा अधिग्रहण है।

इस डील में करीब 11 साल पुरानी फ्लिपकार्ट का मूल्य 20.8 अरब डॉलर आंका गया है। वालमार्ट ने एक बयान में कहा कि उसने फ्लिपकार्ट की 77 प्रतिशत हिस्सेदारी खरीदी है। फ्लिपकार्ट के को फाउंडर सचिन बंसल इस सौदे के बाद कंपनी छोड़ देंगे। उन्होंने बिन्नी बंसल के साथ मिलकर 2007 में इसकी स्थापना की थी।

सचिन और बिन्नी पहले अमेजन डॉट कॉम इंक में काम करते थे। उन्होंने किताबें बेचने से कंपनी की शुरुआत की थी। हालांकि माना जा रहा है कि फ्लिपकार्ट हेड कल्याण कृष्णमूर्ति और उसके फाउंडर बिन्नी फिलहाल बने रहेंगे। भारत के ऑनलाइन मार्केट पर फ्लिपकार्ट की 40% हिस्सेदारी है।
इससे पहले ऐसी खबरें थी कि अमेजन ने भी फ्लिपकार्ट में हिस्सेदारी खरीदने के लिए दिलचस्पी दिखाई थी।

लेकिन वालमार्ट की डील फ्लिपकार्ट को ज्यादा पसंद आई। हाल के वर्षों में फ्लिपकार्ट को अमेजन से कड़ी चुनौती मिली है। हालांकि वालमार्ट के आने से अब एक बार फिर अमेजन के लिए मुश्किलें बढ़ सकती हैं।

  • Published Date: May 9, 2018 9:40 PM IST
  • Updated Date: May 10, 2018 8:40 AM IST