comscore Google Play Store से हटाई गई भारत विरोधी यह ऐप, तुरंत करें डिलीट | Anti-india App 2020 Sikh Referendum removed from Google play Store
News

Google Play Store से हटाई गई भारत विरोधी यह ऐप, तुरंत करें डिलीट

पंजाब सरकार की मांग के बाद गूगल ने Google Play Store पर मौजूद भारत विरोधी ऐप '2020 Sikh Referendum' को हटा दिया है। पंजाब सरकार के अधिकारी ने यह जानकारी मीडिया को शेयर की है। अधिकारी के मुताबिक गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद इस ऐप को हटाने के लिए पंजाब सरकार ने गूगल से शिकायत की थी।

Google Play Store

पंजाब सरकार की मांग के बाद गूगल ने Google Play Store पर मौजूद भारत विरोधी ऐप ‘2020 Sikh Referendum’ को हटा दिया है। पंजाब सरकार के अधिकारी ने यह जानकारी मीडिया को शेयर की है। अधिकारी के मुताबिक गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद इस ऐप को हटाने के लिए पंजाब सरकार ने गूगल से शिकायत की थी। पंजाब सरकार के मुताबिक यह ऐप भारत विरोधी गतिविधियों से जुड़ी हुई थी। बता दें कि यह ऐप Sikhs For Justice ग्रुप से जुड़े लोगों की हैं। बता दें कि इस ग्रुप को भारत सरकार ने प्रतिबंधित किया है।

‘Sikhs for Justice’ ग्रुप से जुड़े लोग ‘2020 Sikh Referendum’ ऐप के जरिए पंजाब के युवाओं को भड़का रहे हैं। खबरों के मुताबिक यह ऐप पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी के भारत विरोधी अभियानों का हिस्सा है। इस ऐप के जरिए पाकिस्तान भारत में शांति भंग करना चाहता है।

Google Play Store से हटाई गई  ‘2020 Sikh Referendum’ ऐप

गूगल प्ले स्टोर से इस ऐप को हटाए जाने के बाद कोई भी यूजर इस ऐप को डाउनलोड नहीं कर पाएंगे। हालांकि ऐसे यूजर्स जो इस ऐप को डाउनलोड कर चुके हैं वो पहले ही तरह इस ऐप को यूज कर पाएंगे।

केंद्र सरकार ने भेजा नोटिस

इस ऐप के बारे में पंजाब सरकार को नवंबर महीने में जानकारी मिली थी, जिसके बाद पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के आदेश पर राज्य सरकार के अधिकारियों ने गूगल से इस ऐप को Google Play Store से हटाने को कहा गया था। पंजाब सरकार के अनुरोध पर केंद्र सरकार ने गूगल को इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट की धारा 79(3)B के तहत गूगल को ‘2020 Sikh Referendum’ ऐप हटाने के लिए नोटिस दिया था। नोटिस के तुरंत कार्रवाई करते Google Play Store से ऐप को हटा दिया है। बता दें कि एंड्रॉइड स्मार्टफोन यूज करने वाले यूजर्स Google Play Store से अपने फोन में ऐप डाउनलोड करते हैं।

 

  • Published Date: November 20, 2019 2:16 PM IST
  • Updated Date: November 21, 2019 11:36 AM IST