comscore
News

एप्पल भारत में अपनी पेमेंट सर्विस "एप्पल पे" को अभी नहीं करेगा लॉन्च

एप्पल से पहले अमेजन इंडिया और व्हाट्सएप ने भी रेगुलेटरी कारणों से अपने यूपीआई बेस्ड पेमेंट इंटरफेस को लॉन्च करने का फैसला टाल दिया था।

apple-pay-lead

अमेरिका की दिग्गज टेक्नोलॉजी कंपनी एप्पल ने भारत में अपने यूपीआई (यूनिफाइड पमेंट इंटरफेस) बेस्ड पेमेंट इंटरफेस एप्पल पे को लॉन्च करने की योजना को टाल दिया है। कंपनी ने अपने लॉन्च को टालने से पहले देश के कुछ बड़े बैंकों और नेशनल पेमेंट कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया के साथ बातचीत की थी, जिसके बाद कंपनी ने यह फैसला लिया है। एप्पल से पहले अमेजन इंडिया और व्हाट्सएप ने भी रेगुलेटरी कारणों से अपने यूपीआई बेस्ड पेमेंट इंटरफेस को लॉन्च करने का फैसला टाल दिया था।
मामले की जानकारी रखने वाले एक शख्स ने इकोनॉमिक टाइम्स को बताया,“एप्पल भारत में अभी अपना पेमेंट प्लेटफॉर्म लॉन्च नहीं करेगा। कंपनी अभी इस बात का इंतजार कर रही है कि यहां रेगुलेटरी माहौल में किस तरह का बदलाव आता है।”

एप्पल ने ये भी कहा है कि वह रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया की पॉलिसी से खुश नहीं है। कंपनी की सबसे बड़ी चिंता पेमेंट डाटा के लोकलाइजेशन को लेकर है। आरबीआई के नियमों के मुताबिक एप्पल को सभी पेमेंट डाटा को लोकल यानी भारत में ही स्टोर करके रखना होगा। आरबीआई के इस नियम से दूसरी मल्टीनेशनल कंपनियों जैसे मास्टरकार्ड, वीजा और पेपाल जैसी कंपनियों की योजना पर भी असर हुआ है। अन्य कंपनी गूगल का भी कहना है कि उसकी नजर भारत में डाटा लोकलाइजेशन को लेकर RBI की बदलती पॉलिसी पर है।

  • Published Date: September 6, 2018 8:51 PM IST