comscore Bolo Indya के यूजर्स बढ़े, टिकटॉक को ऐसे देगा टक्कर | BGR India Hindi
News

Bolo Indya को मिले 1 लाख से ज्यादा नए यूजर्स, जानिए कैसे यह देसी एप देगा टिकटॉक को टक्कर

पिछले कुछ वक्त में टिकटॉक को लेकर लोगों के मन में खटास आई है, जिसका असर एप पर देखने को भी मिल रहा है। ऐसे में तमाम देसी एप को इसका लाभ मिला है। इसी क्रम में देसी सोशल मीडिया एप Bolo Indya के यूजर्स की संख्य बढ़ी है। हाल में ही Bolo Indya के यूजर्स की संख्या में 1 लाख का इजाफा हुआ है। कंपनी कहा कहना है इस उसके यूजर्स की संख्या लगातार बढ़ रही है।

bolo-indya

भारत और चीन के बीच चल रहे सीमा विवाद को लेकर देश में चीन के खिलाफ सेंटिमेंट्स भड़क उठे हैं। वहीं टिकटॉक और यूट्यूब विवाद को लेकर टिकटॉक के खिलाफ लोगों के बीच कुछ माहौल बना हुआ है। कुल मिलाकर पिछले कुछ वक्त में टिकटॉक को लेकर लोगों के मन में खटास आई है, जिसका असर एप पर देखने को भी मिल रहा है। ऐसे में तमाम देसी एप्स को इसका लाभ मिला है। इसी क्रम में देसी सोशल मीडिया एप Bolo Indya के यूजर्स की संख्य बढ़ी है। हाल में ही Bolo Indya के यूजर्स की संख्या में 1 लाख से ज्यादे का इजाफा हुआ है। कंपनी कहा कहना है इस उसके यूजर्स की संख्या लगातार बढ़ रही है। Also Read - टिकटॉक को टक्कर देने आया देसी एप Mitron, 50 लाख से ज्यादा हुआ डाउनलोड

Bolo Indya पर ज्यादातर यूजर्स यूथ हैं

पिछले 12 महीनों की बात करें तो Bolo Indya ने कुल 4.85 लाख यूजर्स अपने प्लेटफॉर्म पर जोड़े हैं। कंपनी का कहना है कि यूजर्स प्रतिदिन उसके एप पर औसत 31 मिनट का वक्त बिता रहे हैं। बोलो इंडिया ने बताया कि उसे 58 फीसदी यूजर यंग है, जिनकी उम्र 18 से 24 साल के बीच है। इस वीडियो क्रिएटिंग प्लेटफॉर्म पर 1,18,000 से ज्यादा यूजर्स वीडियो कंटेंट तैयार कर रहे हैं। पिछले 12 महीनों में एप पर 80 लाख से ज्यादा वीडियो क्रिएट किए गए हैं। Also Read - TikTok New Feature : टिकटॉक में जल्द जुड़ेंगे नए फीचर, पेरेंट्स को मिलेंगे ये कंट्रोल

यह एप 10 भाषाओं के सपोर्ट के साथ आता है। कंपनी का कहना है कि उनका प्लेटफॉर्म टिकटॉक से अलग है। इस एप का इस्तेमाल यूजर्स अपने व्यू, सीखने औ सलाह साझा करने के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं। Bolo Indya पर यूजर्स जीके, हेल्थ, इंग्लिश कोचिंग, ट्रैवल, फूट, टेक्नोलॉजी, फाइनेंस, मनोरंजन आदि के वीडियो शेयर कर सकते हैं। एप में यूजर्स को म्यूजिक, इमोजी, स्टीकर, फेस फिल्टर जोड़ने का फीचर भी मिलता है। यह एप साल 2019 में लॉन्च हुआ था और यूजर्स इसके जरिए कमाई भी कर सकते हैं। Also Read - Coronavirus challenge: टिकटॉक बनाने वाले लड़के को हुआ कोरोनावायरस! चाटी थी पब्लिक टॉयलेट सीट

खास बातचीत

Bolo Indya के फाउंडर, वरुण सक्सेना ने बीजीआर इंडिया से बातचीत में बताया कि एक हफ्ते में तेजी से यूजर्स की संख्या के बढ़ने की वजह मुख्य रूप से टिकटॉक का गिरना जरूर है। लेकिन खास बात ये है कि यूजर्स की संख्या और उनका इंगेजमेंट एप पर बढ़ा है। इसकी मुख्य वजह ये है कि हम दूसरा टिकटॉक नहीं बनना चाहते हैं। बल्कि हमने वायरल होने की इच्छा से ऊपर अपने यूजर्स की स्थानीय भाषाओं की मांग को जरूरी समझा है।

वरुण का कहना है कि इस प्लेटफॉर्म पर क्रिएटर्स वित्तिय तौर पर भी मजबूत हो रहे हैं। उन्होंने इस सर्विस को आत्मनिर्भर भारत मिशन का हिस्सा बताया है, जिसका ऐलान पीएम नरेंद्र मोदी द्वारा ने देश को मजबूत करने के लिए किया है। वरुण ने बताया कि डिसकवरी और डिलिवरी सर्विस इस एप को टिकटॉक, शेयरचैट, हेलो जैसे प्लेटफॉर्म से अलग बनाती है।

उन्होंने बताया कि एप की ज्यादातर ग्रोथ ऑर्गेनिक है। हालांकि आगे बढ़ते हुए हम ऑर्गेनिक और इन-ऑर्गिनेक दोनों प्रकार के चैनल पर फोकस कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि आने वाले समय में वह व्हाट्सएप, टेलीग्राम, यूट्यूब पर वीडियो डिस्ट्रीब्यूशन के साथ विभिन्न भाषाओं के सेलिब्रिटी से साझेदारी भी करेंगे। जिससे लोग इस एप पर भरोसा कर सकें।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: June 13, 2020 4:51 PM IST



new arrivals in india