comscore Facebook पर फोटो अपलोड करने पर चेहरे अपने आप नहीं होंगे टैग, कंपनी बंद करेगी यह फीचर
News

Facebook पर फोटो अपलोड करने पर चेहरे अपने आप नहीं होंगे टैग, कंपनी बंद करेगी यह फीचर

Facebook ने ऑटोमैटिक फेस टैगिंग फीचर को बंद कर दिया है। कंपनी के इस फेशियल रेकोग्निशन फीचर के जरिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर फोटो अपलोड करते समय यह फोटो में दिखने वाले यूजर के चेहरे की पहचान हो जाती थी और यूजर को अपने आप टैग कर लिया जाता था। फेसबुक का यह फीचर लोगों के चेहरे के आधार पर फोटो में टैगिंग करता था।

Facebook

Facebook ने ऑटोमैटिक फेस टैगिंग फीचर को बंद कर दिया है। कंपनी के इस फेशियल रेकोग्निशन फीचर के जरिए सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर फोटो अपलोड करते समय यह फोटो में दिखने वाले यूजर के चेहरे की पहचान हो जाती थी और यूजर को अपने आप टैग कर लिया जाता था। फेसबुक का यह फीचर लोगों के चेहरे के आधार पर फोटो में टैगिंग करता था। इस फीचर के बंद होने के बाद अगर किसी यूजर ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट में ऑटो फेस टैगिंग का ऑप्शन चुना होगा, तो वह काम नहीं करेगा। यूजर को किसी को टैग करने के लिए अब मैनुअली टैगिंग करनी पड़ेगी। Also Read - Facebook का जबरदस्त प्राइवेसी फीचर, इस तरह छिपाएं पोस्ट पर कितने आए लाइक

100 करोड़ लोगों के चेहरे होंगे डिलीट

यही नहीं, फेसबुक अपने डेटाबेस से 1 बिलियन यानी 100 करोड़ लोगों के चेहरे को भी डिलीट करेगा। कंपनी ने कहा, हम इस फीचर का सकारात्मक इस्तेमाल करने जा रहे हैं। इन दिनों सोशल कंसर्न बढ़ने लगे हैं और रेगुलेटर द्वारा इसके लिए नियम भी तय किए जाने हैं। फेसबुक का यह बदलाव अब तक के टेक्नोलॉजी में आई सबसे बड़ी क्रांति में से एक है। Also Read - Facebook Messenger PC बीटा ऐप को मिला नया लुक और तेज हुई स्पीड

facebook facial recognition (1)

Image: Facebook

Facebook के एक-तिहाई से ज्यादा डेली यूजरस इस ऑटोमैटिक फेस रेकोग्निशन फीचर का इस्तेमाल करते हैं। इस फीचर के हटने से 100 करोड़ फेसबुक यूजर्स के चेहरे की पहचान डिलीट की जाएगी। फेसबुक पिछले कुछ समय से ही अपने यूजर को किसी भी फोटो पर मैनुअली टैग करने के लिए कह रहा है। इसके अलावा फेसबुक ने नेत्रविहीन लोगों के लिए ऑटोमैटिक ऑल्ट टेक्स्ट जैसे फीचर जोड़े हैं, जिसके जरिए फोटो का डिस्क्रिप्शन लग जाता है। अब इस फीचर में लोगों के नाम नहीं जुड़ेंगे। Also Read - Instagram के Text To Speech और Voice Effects फीचर का यूज करना है बहुत आसान, जानें तरीका

सोशल मीडिया कंपनी ने अपने स्टेटमेंट में कहा कि आने वाले कुछ सप्ताह में यूजर्स को ये बदलाव दिखने लगेंगे। कंपनी ने आगे कहा कि वो अभी भी ऑटोमैटिक फेशियल रेकोग्निशन को एक पावरफुल टूल मानती है। इस फीचर के जरिए प्राइवेसी, ट्रांसपैरेंसी और यूजर को अपने चेहरे के इस्तेमाल करने का कंट्रोल मिलता है। कंपनी इस तरह की टेक्नोलॉजी पर काम करती रहेगी और बाहरी एक्सपर्ट्स को इसके लिए जोड़ती रहेगी। हालांकि, कंपनी ने यह स्पष्ट नहीं किया है कि किन कारणों से यह फैसला लिया गया है।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: November 3, 2021 8:25 PM IST
  • Updated Date: November 4, 2021 6:45 AM IST



new arrivals in india

Best Sellers