comscore
News

इस ऐप से सस्ते मोबाइल में भी चलेगा बेहतरीन ग्राफिक्स के साथ PUBG Mobile

Google Play Store पर मौजूद GFX Tools की मदद से आप अपने Low-End डिवाइस में नॉर्मल वर्जन को भी बेहद आराम से खेल सकते हैं।

  • Published: November 23, 2018 12:51 PM IST
oneplus 6 long term review pubg

PUBG Mobile एेसा गेम है, जिसके बारे में लगभग सभी ने सुना होगा। इस गेम ने ना केवल भारत में बल्कि पूरी दुनिया में बहुत बड़ा प्लेयर बेस बना दिया है। कंपनी ने इस गेम को कई गेमिंग प्लेटफॉर्म में लॉन्च किया है। गेम ने सबसे ज्यादा पॉप्युलेरिटी PC और मोबाइल वर्जन में हासिल की है। गेम इतना पॉप्युलर हुआ है कि Tencent Games को इस गेम का लाइट वर्जन भी लॉन्च करना पड़ा, जिससे Low-End डिवाइस वाले यूजर्स भी इस गेम को खेल सके।

गेम के PC वर्जन की तरह मोबाइल वर्जन में भी ग्राफिक और रैम की अच्छी खासी डिमांड रहती है और यही वजह है कि कंपनी को इसका लाइट वर्जन लॉन्च करना पड़ा है। हालांकि लाइट वर्जन नॉर्मल वर्जन से थोड़ा अलग है। इसका मैप छोटा है और ग्राफिक्स भी थोड़े लो हैं। लाइट गेम में फीचर्स भी थोड़े कम हैं। एेसे में कई यूजर्स के लिए अपने Low-End डिवाइस में इस गेम को खेलना थोड़ा मुश्किल हो जाता है।

एेसे में कुछ डेवलपर्स के द्वारा डेवलप किए GFX Tools बहुत काम आते हैं। इन टूल के जरिए आप अपने Low-End डिवाइस में नॉर्मल वर्जन को बेहद आराम से खेल पाएंगे। यह टूल आपके डिवाइस को गेम के अनुसार अॉप्टिमाइज कर आपको बेहतर परफॉर्मेंस और ग्राफिक्स हासिल करने में मदद करते हैं। इनमें से गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद tsoml द्वारा डेवलप की गई ‘GFX Tool’ नाम की ऐप एक बेहतरीन परफॉर्मेंस एनहेंसर एेप है। आइए जानते हैं कि गेम की परफॉर्मेंस को बढ़ाने के लिए इस एेप को कैसे सेट करना है।

एेसे करें एेप की सेटिंग

सबसे पहले आपको बता दें कि यह एेप केवल गूगल प्ले स्टोर पर मौजूद है, क्योंकि Apple अपने App Store पर एेसी ट्विकिंग एेप्स को शामिल नहीं करता है।

1. सबसे पहले गूगल प्ले स्टोर से tsoml के द्वारा डेवलप की गई GFX Tool एेप को डाउनलोड करें।

2. इंस्टॉल होने के बाद एेप को ओपन करें। अब आपको इसमें कई सारे अॉप्शन दिखाई देंगे। आपको इन अॉप्शन को अपने स्मार्टफोन के मुताबिक चेंज करना है।

3. सबसे पहले आपको अपने स्मार्टफोन में इंस्टॉल हुए PUBG Mobile गेम का सही वर्जन चुनना है। इसमें GP का मतलब नॉर्मल ग्लोबल वर्जन है। CN का मतलब चाइनीज वर्जन, KR का मतलब कोरिया वर्जन, Beta का मतलब Beta वर्जन और Lite का मतलब PUBG Mobile का लाइट वर्जन है। अगर आप भारत में रहते हैं और आपने गेम को नॉर्मल तरीके से गूगल प्ले स्टोर से डाउनलोड किया है तो आपको GP चुनना है।

4. अब अगला अॉप्शन रिजॉल्यूशन है। इस अॉप्शन में आपको अपने स्मार्टफोन का सबसे ज्यादा सपोर्टेड रिजॉल्यूशन चुनना है।

5. इसके बाद ग्राफिक्स में आपको अपने मुताबिक ग्राफिक्स को चुनना है। ‘Balanced’ मतलब है कि गेम में ग्राफिक्स और बैटरी का यूज बराबर होगा और HDR का मतलब है कि स्मार्टफोन में मौजूद हार्डवेयर का ज्यादा से ज्यादा इस्तेमाल होना। आप जितना ज्यादा अच्छी परफॉर्मेंस चाहेंगे आपका एेप आपके स्मार्टफोन के हार्डवेयर रिसोर्स को उतना ज्यादा यूज करेगा। एेसा हो सकता है कि इससे बैटरी की खपत ज्यादा हो या आपका स्मार्टफोन गरम हो जाए।

6. अगले अॉप्शन में FPS आता है, जिसमें आपको अपने मुताबिक FPS को चुनना है। आजकल सारे डिवाइस 60 FPS को सपोर्ट करते हैं, तो बेहतरीन ग्राफिक्स के लिए आप 60 FPS को चुन सकते हैं।

7. Anti-aliasing अॉप्शन स्मूथ टेक्सचर के लिए होता है। हम बजट डिवाइस वाले यूजर्स को इसे Disable रखने का सजेशन देंगे। हालांकि High-end डिवाइस वाले यूजर इसमें मौजूद 2X और 4X अॉप्शन में से अपने मन मुताबिक कोई भी अॉप्शन चुन सकते हैं। जितना ज्यादा Anti-aliasing होत हैं, टेक्सचर उतना स्मूथ आता है।

8. स्टाइल और शैडो को आप अपने मन मुताबिक चुन सकत हैं। यह केवल लुक में हल्का बदलाव करता है। इस अॉप्शन का परफॉर्मेंस पर कोई असर नहीं होता है। GPU Optimization को भी आप अपने मन मुताबिक चुन सकते हैं।

9. एक बार यह सब सेटिंग हो जाने के बाद आप गेम को ‘Accept’ पर क्लिक सेटिंग कर सेव कर सकते हैं और उसके बाद ‘Run Game’ पर क्लिक कर गेम को चला सकते हैं।

  • Published Date: November 23, 2018 12:51 PM IST