comscore Instant Loan App Fraud: इंस्टैंट लोन के नाम पर ठगी, 180 से ज्यादा शिकायतें दर्ज
News

सावधान! बिना डॉक्यूमेंट के Instant Loan देने वाले ऐप्स के जरिए हो रही ठगी

Instant Loan App fraud: जरूरतमंद लोगों के इंस्टैंट लोन देने के नाम पर ठगी की जा रही है। देश की राजधानी से सटे गाजियाबाद में बीते 30 दिनों में इस तरह के 180 से ज्यादा मामले सामने आए हैं, जिसमें साइबर अपराधी यूजर को बिना किसी डॉक्यूमेंटेशन के इंस्टैंट लोन देने के नाम पर प्रताड़ित कर रहे हैं।

Smartphone can be used with the kit

Instant Loan App Fraud: पिछले एक महीने में 180 से ज्यादा लोन फ्रॉड की शिकायतें गाजियाबाद पुलिस को मिली हैं। इन शिकायतों के मुताबिक, यूजर को ऐप के जरिए बिना किसी डॉक्यूमेंटेशन के इंस्टैंट लोन ऑफर किया जा रहा है। लोन लेने के कुछ समय बाद ही रिकवरी के कॉल आने लगते हैं, जिसमें यूजर को लोन ली गई राशि से कई गुना रकम चुकाने के लिए कहा जाता है। ऐसा करने से मना करने पर साइबर क्रिमिनल यूजर के स्मार्टफोन कॉन्टैक्ट और फोटो को गलत तरीके से इस्तेमाल करके प्रताड़ित कर रहे हैं। साइबर अपराधी इसके लिए खास तौर पर जरूरतमंद यूजर्स को टारगेट कर रहे हैं। Also Read - App से पर्सनल लोन के 'खेल' पर लगेगी लगाम, Google ने बनाए कड़े नियम

टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक, गाजियाबाद पुलिस ने बताया 25 दिसंबर 2021 से लेकर 23 जनवरी के बीच फर्जी लोन ऐप के 180 से ज्यादा शिकायतें दर्ज की गई हैं। पुलिस के मुताबिक, यूजर को सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म या फिर SMS के जरिए इस तरह के ऐप के बारे में जानकारी भेजी जाती है। Also Read - सावधान! दिल्ली पुलिस ने किया एक Fake Loan App गैंग का पर्दाफाश, जानिए कैसे फंसते थे लोग

यूजर जैसे ही अपने स्मार्टफोन में ऐप को इंस्टॉल करते हैं, साइबर अपराधियों के पास यूजर के डिवाइस की सेंसेटिव जानकारियां, जैसे कि कॉन्टैक्ट, गैलरी, लोकेशन आदि की डिटेल्स पहुंच जाती है। साइबर क्रिमिनल्स इनका इस्तेमाल करके यूजर को लोन फ्रॉड का शिकार बना रहे हैं और प्रताड़ित कर रहे हैं। यही नहीं, यूजर को साइबर क्रिमिनल फर्जी लीगल नोटिस भेजकर भी मानसिक प्रताड़ना दे रहे हैं। Also Read - अलर्ट! एंड्रॉइड स्मार्टफोन में खतरनाक वायरस, चुपके से चुराता है बैंकिंग डिटेल्स

लोन के नाम पर हो रही ठगी

गाजियाबाद पुलिस ने बताया कि क्रॉसिंग रिप्ब्लिक में रहने वाली एक महिला ने Cash Fish नाम के लोन ऐप से 1,200 रुपये का लोन लिया। लोन लेने के दो दिन के बाद रिकवरी एजेंट द्वारा कॉल करके 2,000 रुपये जमा करने के लिए कहा गया। महिला ने इसके बाद लोन की राशि का भुगतान करके ऐप से अकाउंट डिएक्टिवेट कर लिया और ऐप को फोन से अनइंस्टॉल भी कर लिया, लेकिन इसके अगले दिन की उसके पास एक मैसेज आता है कि किसी और ऐप से लोन अप्रूव हो गया है। जैसे ही उसने ऐप को इंस्टॉल करके देखा तो उसमें 4,000 रुपये क्रेडिट किए गए थे। साथ ही, उसके नाम से अकाउंट भी बना हुआ था।

इसके बाद उस महिला ने लोन प्रदाता कंपनी को इसकी शिकायत करने की कोशिश की तो उसे 7,000 रुपये का भुगतान करने के लिए कहा गया। महिला ने जैसे ही रकम के भुगतान से मना किया, लोन देने वाली कंपनी के एजेंट ने उसके साथ बदतमीजी करनी शुरू कर दी। यही नही, उसके फोटो को गलत तरीके से इस्तेमाल करके उसपर लोन फ्रॉड लिखकर महिला के कॉन्टैक्ट लिस्ट के लोगों को भेजने की धमकी देकर रुपये का भुगतान करने के लिए कहा गया। इसके अलावा महिला को 10 लीगल नोटिस भी भेजे गए। जिसके बाद महिला ने परेशान होकर साइबर सेल में अपनी शिकायत दर्ज की।

यूजर को कर रहे प्रताड़ित

दूसरा मामला गाजियाबाद के कविनगर का है, जिसमें एक रिटायर्ड IPS ऑफिसर ने इसी तरह के एक ऐप से लोन लेकर उसका भुगतान कर दिया। लोन भुगतान करने के बाद भी रिटायर्ड ऑफिसर को लोन रिकवरी के लिए मैसेज और कॉल आने लगे। यही नहीं, साइबर अपराधियों ने उनके कॉन्टैक्ट का इस्तेमाल करके उन्हें परेशान भी किया। जिसके बाद उन्होंने कविनगर थाने में जाकर रिपोर्ट दर्ज कराई। गाजियाबाद साइबर सेल के इंस्पेक्टर सुमित कुमार ने बताया कि उनके पास इस तरह का पहला केस 25 दिसंबर 2021 को आया था। इसके बाद से हर दिन इस तरह की करीब 15 शिकायतें मिल रही है।

fraud

1100 से ज्यादा फर्जी लोन ऐप्स मौजूद

साइबर सेल ने Rich Cash, Kwik Cash, Super Wallet, Lucky Wallet, Speed Loan, Happy Wallet, Cash Fish, Rupiya Bus, Live Cash, Best Paisa, Rupaya Smart, Rupee Box, Loan Cube, Credit Box समेत कुछ ऐप्स को चिन्हित किया है। साइबर सेल फिलहाल इन ऐप्स के सोर्स की तलाश कर रही है। साथ ही, यूजर के पास जिन नंबरों से रिकवरी के लिए कॉल आया है, उसे भी ट्रेस किया जा रहा है। भारतीय रिजर्व बैंक ने भी पिछले दिनों बताया था कि इस तरह के 1100 से ज्यादा फर्जी ऐप्स भारत में मौजूद हैं। जिनमें से 600 ऐप्स Google Play Store और 80 ऐप्स iOS स्टोर पर मौजूद हैं।

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on  Facebook Messenger for latest updates.

  • Published Date: January 24, 2022 11:11 AM IST
  • Updated Date: January 24, 2022 12:01 PM IST



new arrivals in india